शहीद नीलेश का पार्थिव शरीर पहुंचा गांव, लोगों ने लगाए अमर रहे के लगाये नारे

0
42

बिहार के भागलपुर जिले के शहीद नीलेश कुमार का अंतिम संस्कार गांव से आठ किमी दूर सुल्तानगंज के उत्तर वाहिनी गंगा घाट पर किया जाएगा। गांव में भारी संख्या में लोग पहुंचे हुए हैं। देश भक्ति गाने के बीच नीलेश अमर रहे के लोग नारे लगा रहे हैं।

सड़क किनारे बड़े से लेकर बच्चे तक हाथ में तिरंगा झंडा लिए हुए हैं। पार्थिव शरीर पैतृक गांव उधाडीह पहुंचे गया है।

भागलपुर के सुल्तानगंज के शहीद नीलेश के पिता से गुरुवार को सीएम नीतीश कुमार ने बात की। सीएम ने हर संभव मदद का भरोसा दिया । सरकार ने शहीद के परिजनों को 11 लाख रुपए देने की घोषणा की है। नीलेश के गांव में कई नेता भी पहुंचे हुए हैं। परिजनों से जाकर मुलाकात भी की।

बुधवार को हुए थे शहीद
जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा में बुधवार सुबह पांच बजे आतंकियों के साथ मुठभेड़ में वायुसेना गरुड़ कमांडो कॉर्पोरल नीलेश कुमार शहीद हो गए। वे सुल्तानगंज के रहने वाले थे। वह बेटी व पत्नी के साथ चंडीगढ़ स्थित एयरफोर्स कैंप में रहते थे।

विभागीय निर्देश पर जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में आर्मी कैंप में ट्रेनिंग देने गए थे। वे परिवार के साथ वक्त बिताने के लिए चार अक्टूबर को चंडीगढ़ एयरफोर्स कैंप आए थे। तीन भाई-बहनों में सबसे बड़े नीलेश का जन्म 10 फरवरी 1986 को हुआ था। उन्होंने 2004 में वायुसेना की नौकरी ज्वाइन की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here