अहमद पटेल को लेकर नकवी ने बोला हमला, कहा- कांग्रेस का हाथ, आतंकवाद के साथ

0
275

गुजरात में विधानसभा चुनाव को लेकर जारी गहमागहमी के बीच कांग्रेस नेता अहमद पटेल से जुड़े अस्पताल में कथित आईएस आतंकियों के नौकरी करने के आरोप के बाद घमासान छिड़ गया है. शनिवार को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस पर करारा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि अभी तक हम कहा करते थे कि ‘कांग्रेस का हाथ, भ्रष्टाचार के साथ’ लेकिन अब लोग कहेंगे कि ‘कांग्रेस का हाथ, आतंकवाद के साथ’.

नकवी ने कहा कि सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल उस अस्पताल से जुड़े थे, जिसमें आतंकी नौकरी करते थे. अहमद पटेल ही भरूच अस्पताल के कर्ता-धर्ता थे. उन्होंने कहा कि हम राजनीति नहीं, बल्कि राष्ट्रनीति कर रहे हैं. कांग्रेस आतंकियों को संरक्षण देने के मामले में जवाब दे. कांग्रेस मामले में लीपापोती कर रही है. अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी जवाब दें.

वहीं, पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने बीजेपी की ओर से अहमद पटेल का इस्तीफा मांग जाने पर हैरानी जताई है. उन्होंने कहा कि अहमद पटेल साल 2014 में ही अस्पताल के ट्रस्टी पद से इस्तीफा दे चुके थे. दरअसल, शुक्रवार को गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सनसनीखेज आरोप लगाया था कि गुजरात आतंकवाद निरोधक दस्ते (ATS) की ओर गिरफ्तार आईएस आतंकी कांग्रेस नेता अहमद पटेल के संरक्षण वाले अस्पताल में नौकरी करते थे.

मामले को लेकर उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी और अहमद पटेल से इस्तीफा मांगा. मालूम हो कि हाल ही में गुजरात एटीएस ने आईएस के दो संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा है कि ये आतंकी अहमदाबाद में बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे.

सीएम रूपाणी ने कहा कि खूंखार आतंकी मोहम्मद कासिम जिस भरुच अस्पताल में नौकरी करता था, उसके कर्ता-धर्ता अहमद पटेल ही हैं. हालांकि कांग्रेस ने सफाई दी कि अहमद पटेल ने यहां से साल 2014 में इस्तीफा दे दिया था. हालांकि साल 2016 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को बुलाकर अस्तपाल का उद्घाटन करवाया था.

इस कार्यक्रम का आयोजन अहमद पटेल ने ही कराया किया था. शुक्रवार को गुजरात के मुख्यमंत्री रूपाणी ने मामले को लेकर कांग्रेस नेता अहमद पटेल से सफाई मांगी. वहीं, शनिवार को मुख्तार अब्बास नकवी नकवी ने सवाल दागा कि अब कांग्रेस ही बताए कि अहमद पटेल अस्पताल से जुडे़ थे या नहीं?

वहीं, शुक्रवार को कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने आरोपों को सिरे से खारिज किया. उन्होंने मामले में सफाई देते हुए कहा था कि मेरे ऊपर बीजेपी की ओर से लगाए जा रहे सारे आरोप निराधार हैं. मेरी पार्टी और मैं आतंकियों की गिरफ्तारी के लिए गुजरात एटीएस की तारीफ करता हूं. साथ ही आतंकियों के खिलाफ कड़ी और जल्द कार्रवाई करने की मांग करता हूं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here