जापान के केंता निशिमोतो को हराकर किदांबी श्रीकांत बने चैंपियन

0
26

इस सत्र में अपने पांचवें फाइनल में पहुंचकर नया भारतीय रेकॉर्ड बनाने वाले श्रीकांत का यह इस साल का चौथा और कुल छठा सुपर सीरीज खिताब है। इससे पहले उन्होंने इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया और डेनमार्क ओपन में खिताब जीते थे। वह एक साल में चार या इससे अधिक सुपरसीरीज खिताब जीतने वाले दुनिया के केवल चौथे खिलाड़ी हैं।

विश्व में चौथे नंबर के इस भारतीय ने शुरु से ही दबदबा बना दिया था और केवल 34 मिनट में उन्होंने मैच अपने नाम किया। वह फ्रेंच ओपन जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष खिलाड़ी बन गए हैं।

इस जीत से श्रीकांत ने निशिमोतो पर अपना दबदबा भी बरकरार रखा। इन दोनों खिलाड़ियों के बीच अब तक जो दो मैच खेले गए उनमें भारतीय ने बाजी मारी है। जापानी खिलाड़ी ने पहले गेम में शुरु में श्रीकांत को बराबर की टक्कर दी और एक समय वह 4-2 से आगे था। श्रीकांत ने स्कोर 4-4 से बराबर किया लेकिन निशिमोतो लगातार चार अंक बनाकर 9-5 से आगे हो गए।

इस स्टोरी को गुजराती में पढ़ें

श्रीकांत ने यहां से लय पकड़ी और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने अधिक आक्रामक खेल दिखाया और अपने करारे स्मैश से निशिमोतो को हैरान कर दिया। श्रीकांत ने लगातार छह अंक बनाए और पहले गेम में ब्रेक तक वह 11-9 से आगे थे। इसके बाद उन्होंने स्कोर 14-10 और फिर 18-12 पर पहुंचाया और जब फिर लगातार दो अंक बनाकर पहला गेम अपने नाम किया।

दूसरे गेम में श्रीकांत ने शुरू से ही निशिमोतो को कोई मौका नहीं दिया। उन्होंने 4-0 से शुरुआत की और फिर जल्द ही 10-2 से आगे हो गए। जापानी खिलाड़ी ने लय हासिल करने की कोशिश की लेकिन श्रीकांत ब्रेक तक 11-5 से अच्छी स्थिति में दिख रहे थे। इसके बाद भी कहानी नहीं बदली। जब वह 20-12 से आगे थे तब निशिमोतो ने एक मैच पॉइंट बचाया लेकिन श्रीकांत ने अगला अंक हासिल करके मैच अपने नाम किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here