कोहली-कुंबले विवाद पर खुलकर बोले राहुल द्रविड़, कहा- ‘जो हुआ दुर्भाग्यपूर्ण’

0
137

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कई महीनों बाद विराट कोहली और अनिल कुंबले के बीच हुए विवाद पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. बेंगलुरु लिटरेचर फेस्टिवल के दौरान राहुल द्रविड़ ने इस मामले में अपनी राय रखते हुए कहा कि वह इस बारे में ज़्यादा नहीं जानते हैं, लेकिन कुंबले को जिस तरह बाहर किया गया, वह ग़लत था. इसके अलावा पूरा मामला मीडिया में आना भी दुर्भाग्यपूर्ण रहा.

44 वर्षीय राहुल ने कहा, ‘मुझे लगता है कि पूरा मामला मीडिया के सामने आना अनिल के लिए दुर्भाग्यपूर्ण था और यह उनके साथ नहीं होना चाहिए था. राहुल ने कहा कि सच क्या है और बंद दरवाज़े के पीछे क्या हुआ, यह मैं नहीं जानता. इसलिए सीधे तौर पर टिप्पणी नहीं कर सकता. लेकिन अनिल कुंबले जैसे दिग्गज खिलाड़ी के लिए यह वाकई बेहद दुखद था. भारतीय क्रिकेट टीम में कुंबले का बड़ा योगदान रहा है. उनका करियर बतौर कोच भी बेहतरीन रहा.

राहुल ने फुटबॉल मैनेजर्स से तुलना करते हुए कहा कि जब आप खेलना छोड़कर कोच बनते हैं तो एक दिन आपको जाना ही पड़ता है. यही सच्चाई है. इंडिया-ए और अंडर-19 का कोच होते हुए भी मैं ये जानता हूं कि मुझे भी जाना होगा. कुछ फुटबॉल मैनेजर्स को दो मैचों के बाद ही निकाल दिया जाता है. खिलाड़ी कोच से ज़्यादा ताकतवर होते हैं, क्योंकि जब हम खेलते थे तो कोच से ज़्यादा पॉवरफुल होते हैं.

कुंबले ने जून में चैंपियंस ट्रॉफी ख़त्म होते ही कोच पद से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने ट्विटर पर पोस्ट किया था कि कप्तान को उनकी शैली को लेकर कुछ दिक्कतें हैं और वह नहीं चाहते कि मैं हेड कोच के तौर पर टीम के साथ आगे भी जुड़ा रहूं. आपको बता दें कि कुंबले की कोचिंग के दौरान टीम इंडिया लगातार 5 टेस्ट सीरीज़ जीती और नंबर-1 टीम का रुतबा हासिल कर चुकी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here