आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी ने किया 34 एकड़ शत्रु संपत्ती पर कब्जा

0
221

समाजवादी पार्टी की सरकार में कद्दावर मंत्री रहे आजम खान की मुसीबतें बढ़ने वाली हैं। उत्तर प्रदेश के रामपुर में बनी उनकी जौहर यूनिवर्सिटी के पास 34 एकड़ शत्रु संपत्ति मिली है। यह रिपोर्ट रामपुर के डीएम शिव सहाय अवस्थी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजी है।

डीएम ने बताया कि जिला प्रशासन यह जमीन नहीं ले पाया है क्योंकि यह यूनिवर्सिटी की चारदिवारी में घिरी है। डीएम ने बताया कि उन्होंने सीएम को भेजी गई जांच रिपोर्ट में साफ लिखा है कि मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट ने 34 एकड़ से ज्यादा शत्रु संपत्ति पर कब्जा कर लिया है। यह शत्रु संपत्ति बद्दरुदीन कुरैशी के बेटे इमामुद्दीन कुरैशी की है। जो यहां के सिगनखेड़ा में रहते थे और बाद में पाकिस्तान चले गए थे।

जांच के दौरान पाया गया कि मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट के चेयरमैन आजम खान ने 2006 में इस जमीन को लीस पर लेने के लिए आवेदन किया था। इस आवेदन को तत्कालीन डीएम ने 2007 में खारिज कर दिया था।

पढ़ेंः अब आजम खान बोले, ताज महल को डायनामाइट से उड़ाया जाना तय

डीएम ने बताया कि शौकतनगर के रहने वाले विलायत हुसैन नाम के एक व्यक्ति ने इस मामले में हाई कोर्ट में पीआईएल की थी। अभी मामला कोर्ट में विचाराधीन है। जब आजम खान से इस मामले में रिपोर्टर ने पूछा तो उन्होंने कहा कि पूरा मामला राजनीति से प्रेरित है। वह इसे सक्षम अधिकारियों के सामने रखेंगे।

बीजेपी नेता और पूर्व मंत्री शिव बहादुर सक्सेना के बेटे उद्योगपति आकाश कुमार सक्सेना ने इस मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ से शिकायत की थी। जिसके बाद सीएम ने डीएम को जांच करके रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए थे कि कैसे सरकारी जमीन आजम खान के ट्रस्ट को दे दी गई।

पढ़ेंः समाजवादी पार्टी लीडर आजम खान का भारतीय सुरक्षाबलों पर विवादास्पद बयान, लगाया रेप का आरोप

डीएम ने बताया कि उनकी जांच में आया कि सिकनखेड़ा गांव के सड़क की जमीन मौलाना मोहम्मद अलीग जौहर यूनिवर्सिटी परिसर में दिखाई गई है। जांच के बाद 25 बीघा ग्राम समाज की जमीन और 34 एकड़ शत्रु संपत्ति की जमीन ट्रस्ट को दिए जाने का प्रॉसेस अब भी लंबित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here