IND vs NZ: भारत और न्यूजीलैंड के बीच दूसरा टी-20 मैच आज, सीरीज सील करने उतरेगी टीम इंडिया

0
335

भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन टी-20 मैचों के सीरीज का दूसरा मैच आज राजकोट में खेला जाएगा. भारतीय टीम के पास इस मैच को जीत कर सीरीज सील करने का सुनहरा मौका होगा, क्योंकि भारतीय टीम ने पहले मैच में न्यूजीलैंड को 53 रनों के भारी अंतर से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. भारतीय टीम पर न्यूजीलैंड की टीम टी-20 मैचों में हमेशा भारी पड़ी है, इसलिए भारत चाहेगी कि सीरीज को राजकोट में ही सील किया जाए. लेकिन भारतीय टीम के लिए यह बहुत ही मुश्किल होगा, क्योंकि न्यूजालैंड पलटवार करने में सक्षम है. वैसे भी न्यूजीलैंड आंकड़ों के हिसाब से भारतीय टीम पर भारी है. न्यूजीलैंड ने लगातार 6 मुकाबलों में भारतीय टीम को हराया था. दिल्ली में मैच से पहले भारत ने एक भी मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ नहीं जीता था. पिछले मैच में भारत के दोनों ओपनरों की शानदार बल्लेबाजी ने भारत को न्यूजीलैंड पर आसान जीत दर्ज करने में काफी मदद की. अगर राजकोट में भी रोहित और शिखर का बल्ला ऐसे ही गरजा तो भारत इस मैच में न्यूजीलैंड पर भारी पड़ सकता है.

पहले मैच में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद भारत की नजरें दूसरा टी-20 मैच में जीत हासिल करते हुए तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त लेने पर होंगी. वहीं, न्यूजीलैंड आज को सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में होने वाले इस मैच में वापसी करने के इरादे से उतरेगा. मेजबानों की फॉर्म को देखते हुए जीत उससे दूर नहीं लग रही है लेकिन किवी टीम टी-20 की नंबर-1 टीम है और उसमें वापसी करने का पूरा माद्दा है. पहले मैच में किवी टीम की न गेंदबाजी चली थी न बल्लेबाजी. शिखर धवन और रोहित शर्मा की जोड़ी ने उसे विकेटों के लिए तरसा दिया था. बची कुची कसर विराट कोहली ने पूरी कर दी थी. कोहली ने पिछले मैच में श्रेयस अय्यर को पदार्पण का मौका दिया था, लेकिन वह बल्लेबाजी करने नहीं उतर पाए थे. दूसरे मैच में भी उम्मीद है कि अय्यर अंतिम एकदाश में होंगे.

किवी गेंदबाजों में से सिर्फ मिशेल सैंटनर ही भारतीय गेंदबाजों को शुरुआत में कुछ हद तक रोक पाए थे. बाकी के सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए थे, हालांकि ईश सोढ़ी ने दो विकेट जरूर लिए थे. वहीं, गेंदबाजी में भुवेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल ने भारत की तरफ से अपना कमाल दिखाया था. दिल्ली का मैच तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का अंतिम मैच था. उनके जाने के बाद टीम में एक गेंदबाज की जगह खाली हुई है. ऐसे में इस सीरीज में टीम में शामिल किए गए मोहम्मद सिराज पदार्पण कर सकते हैं. किवी टीम के लिए सिर्फ बल्लेबाजी और गेंदबाजी ही चिंता का सबब नहीं है बल्कि फील्डिंग में भी पिछले मैच में वह कमजोर रही थी. शुरुआत में ही धवन और रोहित के कैच किवी फील्डरों ने छोड़े थे. ऐसे में मेहमानों को तीन क्षेत्र में सुधार करने की जरूरत है.

बल्लेबाजी में किवी टीम की आस कप्तान केन विलियमसन, रॉस टेलर, मार्टिन गुप्टिल और टॉम लाथम पर है. इनके अलावा अगर कोलिन मुनरो का बल्ला चल गया तो वह भारतीय टीम के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं. अब देखना होगा कि कौन सी टीम राजकोट में बाजी मारती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.