मुंबई की जेमिमा रोड्रिगेज ने दोहरा शतक जड़ रचा महिला क्रिकेट में इतिहास

0
191

मुंबई की जेमिमा रोड्रिगेज ने अंडर-19 एकदिवसीय महिला क्रिकेट टूर्नमेंट में 163 गेंद में 202 रन की तूफानी पारी खेली। दाएं हाथ की 17 वर्षीय बल्लेबाज जेमिमा औरंगाबाद में सौराष्ट्र के खिलाफ 50 ओवर के घरेलू मैच में मुंबई की तरफ से खेल रही थीं। 13 बरस की उम्र में अंडर 19 टीम में पहली बार जगह बनाने वाली जेमिमा ने इस टूर्नमेंट में अब तक दो शतक जड़े हैं।

इस तूफानी बल्लेबाज की फॉर्म का अंदाजा इस बात से भी लगा सकते हैं कि अंडर-19 सुपर लीग मैचों में उनका औसत 300 से ऊपर है। जेमिमा ने बहुत छोटी उम्र में ही खेलना शुरू कर दिया और गेंदबाज के रूप में शुरुआत करने के बाद शीर्ष क्रम की बल्लेबाज बनीं। वह आम तौर पर पारी की शुरुआत करती हैं या तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करती हैं।

मुंबई अंडर 19 के कोच जयेश डाडरकर अपनी प्रतिभाशाली खिलाड़ी के लिए कहते हैं, ‘आप बस देखते जाएं… वह टीम इंडिया में खेलने की प्रतिभा रखती है।’ मुंबई के कोच की बात किसी लिहाज से गलत भी नहीं लगती क्योंकि जेमिमा का प्रदर्शन लगातार अच्छा रहा है। वेस्ट जोन अंडर 19 टूर्नमेंट में गुजरात के खिलाफ इस तूफानी खिलाड़ी ने 178 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली।

कोच जयेश कहते हैं, ‘पिछले साल भी वह कैप्टन थी और टीम नैशनल अंडर 19 विमिंज टाइटल पर कब्जा जमाया था।’ कोच बार-बार जोर देकर कहते हैं कि जेमिमा में दोहरा शतक लगाने की काबिलियत है। जयेश ने बताया कि जब उसने 178 रनों की पारी खेली तो मैंने उसे यकीन दिलाया कि वह 200 रन भी बना सकती है। मुझे खुशी है कि उसने यह रेकॉर्ड बनाया।

जेमिमा से पहले इस स्तर के टूर्नमेंट में सिर्फ स्मृति मंधाना ने ही दोहरा शतक जड़ा है। स्मृति ने गुजरात टीम के खिलाफ 2013 में दोहरा शतक लगाया था। अपने प्रदर्शन के बारे में जेमिमा कहती हैं, ‘गुजरात के खिलाफ 178 रन बनाने के बाद मुझे लगा कि 200 रन बनाना कोई असंभव रेकॉर्ड नहीं है। मेरा लक्ष्य था कि बिना कोई गलती किए लगातार खेलते रहना और आखिरकार मैंने 202 रनों की पारी खेली।’ इस पारी में इस खिलाड़ी ने 21 चौके भी लगाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here