अातंकी मसूद अजहर का भतीजा ढेर, अार्मी चीफ ने कहा- अातंकियों को खत्म करेंगे

0
164

श्रीनगर। कश्मीर मसले पर शुरू हुई वार्ता के बीच सोमवार शाम दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में हुई मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए, जबकि एक सैन्यकर्मी शहीद हो गया व दो अन्य जवान घायल हो गए। मारे गए आतंकियों में एक, आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर का भतीजा रशीद तल्हा बताया जा रहा है। इसके अलावा मारा गया एक आतंकी पाकिस्तानी और एक स्थानीय था। इसके बाद अातंकी संगठनों की अोर से धमकी दी गई।

इनकाउंटर के बाद अार्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा कि कि इससे फर्क नहीं पड़ता कि वह (मारा गया आतंकी) मसूद अजहर का भांजा था या कोई और, हम हर तरह के आतंकियों को खत्म कर रहे हैं। इससे यह साफ हो रहा है कि जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को सीमा पार से मदद मिल रही है।

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने दी धमकी

भतीजे की मौत से बौफलाए जैश-ए-मोहम्‍मद के मुखिया मसूद अजहर ने धमकी दी है। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने बयान जारी करते हुए कहा कि सोमवार को हुए एनकाउंटर में जो तीन लोग मारे गए थे, उनमें से एक मसूद अजहर का भांजा था। तल्हा रशीद आउटफिट डिविजनल कमांडर था। एक दिन आएगा जब भारतीय सेना को घाटी से जाना होगा।

इस दौरान घेराबंदी में फंसे आतंकियों को सुरक्षित निकालने के लिए सुरक्षाबलों पर पथराव कर रही भीड़ और पुलिसकर्मियों के बीच हुई हिसक झड़पों में पांच युवक जख्मी हो गए।

इंटरनेट सेवा को बंद किया गया

हालात को देखते हुए पुलवामा जिले व उसके साथ सटे इलाकों में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। घेराबंदी में फंसे आतंकियों की संख्या की पुष्टि नहीं हुई है। वहीं सूत्रों की मानें तो आतंकी वसीम, समीर टाइगर, आदिल हिजबी और लियाकत के अलावा दो अन्य विदेशी आतंकियों में जैश-ए-मुहम्मद के सरगना अजहर मसूद के तथाकथित भतीजे महमूद समेत छह आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर तलाशी अभियान चलाया गया था।

एसएसपी पुलवामा असलम चौधरी ने बताया कि शाम को हमें अपने तंत्र से पता चला कि अगलरकंडी गांव में तीन से चार आतंकी अपने एक संपर्क सूत्र से मिलने आए हैं। उसी समय हमारे विशेष अभियान दल (एसओजी) के जवानों ने सेना की 44 आरआर(राष्ट्रीय राइफल्स) और सीआरपीएफ के जवानों के साथ अभियान चलाया। जवान जैसे ही आतंकी ठिकाने के करीब पहुंचे, आतंकियों ने वहां से भागने का प्रयास करते हुए फायरिंग शुरू कर दी।जवानों ने भी जवाबी फायर किया।

सुरक्षाबलों पर पथराव भी हुअा

इसी दौरान वहां शरारती तत्वों ने भी जमा होकर सुरक्षाबलों पर पथराव शुरू कर दिया, लेकिन जवानों ने घेराबंदी जारी रखते हुए आतंकियों की गोलियों का जवाब दिया। इस दौरान तीन आतंकी मारे गए और तीन सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। इनमें से सेना की 44 आरआर से संबंधित जवान शाम सुंदर ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

दो असाल्ट राइफलें व कुछ अन्य सामान मिला

जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक डॉ. एसपी वैद ने भी तीन आतंकियों के मारे जाने व एक जवान के शहीद होने की पुष्टि की है। मारे गए आतंकियों से दो असाल्ट राइफलें व कुछ अन्य सामान मिला है। सूत्रों ने बताया कि पथराव कर रही भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस ने लाठियों और आंसूगैस के साथ पैलेटगन व हवाई फायरिंग का भी सहारा लिया।

इन झड़पों में पांच लोग जख्मी हुए, जिनमें एक घायल तारिक अहमद बट को गोली लगी है। वहीं एसएसपी ने इससे इन्कार करते हुए कहा कि अगर गोली लगी है तो वह क्रास फायरिंग में लगी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here