SPK News desk, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने राजधानी दिल्ली के कनॉट पैलेस इलाके से 36 करोड़ रुपये के पुराने नोट बरामद किए हैं। 1000 और 500 रुपये के बंद कर दिये गये नोटों के ये बंडल चार लग्जरी गाडिय़ों में रखे हुए थे। बताया जा रहा है कि ये नोट जम्मू-कश्मीर में टेरर फंडिंग से जुड़े हैं। इनका आतंकी और अलगाववादी गतिविधियों से संबंध हैं। पुलिस ने इस संबंध में कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया है। एनआईए के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि एजेंसी के दस्ते ने सोमवार को राजधानी के कनॉट प्लेस इलाके में सात लोगों को पकड़ा। उनके पास से 28 कॉर्टन में रखे हुए 1000 और 500 रुपये के प्रतिबंधित नोटों के बंडल बरामद हुए। ये नोट ह्यूंडई क्रेटा एसएक्स, बीएमडब्ल्यू एक्स1, बीएमडब्ल्यू एक्स3 और फोर्ड इकोस्पोर्ट जैसी लग्जरी गाडिय़ों में रखे हुए थे। उनके पास से कुल 36.34 करोड़ रुपये के प्रतिबंधित नोट बरामद हुए है। देर शाम को उनके तीन और साथियों को दबोचा गया। इन सभी को पूछताछ के लिए एनआईए मुख्यालय लाया गया।
अधिकारी ने बताया कि शुरुआती पूछताछ के बाद कुल नौ लोगों को जम्मू-कश्मीर टेरर फंडिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया गया। इन सभी को बुधवार को एनआईए की विशेष सीबीआई अदालत में पेश किया जाएगा। उन्होंने कहा सि इससे उस साजिश का खुलासा हुआ है जिसके तहत बैन कर दिए गए नोटों को नए नोटों से बदला जा रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here