पाकिस्‍तान कोर्ट में पेश हुए नवाज शरीफ

0
336

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ मंगलवार को भ्रष्टाचार रोधी अदालत में पेश हुए। यह पेशी पनामा पेपर्स में भ्रष्‍टाचार के मामले पर थी जिसके कारण शरीफ को पीएम के पद से इस्‍तीफा देना पड़ा था।

अक्टूबर की शुरुआत में कोर्ट में पेश न होने के बाद उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी हुआ।
पाकिस्तान के इतिहास में नवाज शरीफ 15वें प्रधानमंत्री हैं जिन्हें अपना कार्यकाल पूरा होने से पहले ही पद छोड़ना पड़ाऍ पिछले साल पनामा पेपर लीक में उनका नाम आने के बाद उन पर आरोप लगे।

पाकिस्‍तान के सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोग्‍य बताए जाने के बाद गत जुलाई माह में शरीफ ने पीएम के पद से इस्‍तीफा दिया था। राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने शरीफ, उनके परिवार के सदस्यों और वित्त मंत्री इशाक डार के खिलाफ इस्लामाबाद जवाबदेही अदालत में भ्रष्टाचार और धन शोधन के तीन मामले दर्ज किए थे। सुप्रीम कोर्ट द्वारा 28 जुलाई को पनामा पेपर कांड में शरीफ को प्रधानमंत्री पद से अयोग्य ठहराए जाने के हफ्तों बाद ये मामले दर्ज किए थे। 8 सितंबर को राष्‍ट्रीय जवाबदेही ब्‍यूरो (NAB) ने कोर्ट में शरीफ, उनके बच्‍चों व दामाद के खिलाफ मामला दर्ज किया था। तीन भ्रष्टाचार के मामलों में अनुपस्थित होने पर शरीफ को दोषी बताया गया। मरियम और सफदर को उनके साथ एक मामले में दोषी ठहराया गया है, जबकि अदालत उनके दो बेटों हुसैन और हसन के मामलों पर अलग से सुनवाई कर रही है जो तीन मामलों में सह-आरोपी हैं।

28 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोग्‍य करार दिए जाने के बाद नवाज शरीफ, उनके परिवार व वित्‍त मंत्री इशाक डार के खिलाफ भ्रष्‍टाचार के तीन मामले सामने आए। देश के सर्वाधिक ताकतवर राजनीतिक परिवार व सत्‍तारूढ़ पीएमएल-एन पार्टी का नेतृत्‍व करने वाले शरीफ का राजनीतिक भविष्‍य तब से अधर में लटका हुआ है। यदि शरीफ दोषी करार दिए जाते हैं तो उन्‍हें जेल हो सकता है। शरीफ के परिवार का कहना है कि यह सब राजनीतिक साजिश है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.