SPK NEWS DESK, बीते साल 8 नवंबर के नोटबंदी की घोषणा कर पूरी दुनिया को चौंकाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस फैसले की पहली वर्षगांठ पर फिर से देश-दुनिया को चौंका सकते हैं। घोषणा संभवत: कालाधन से जुड़े हर स्रोत पर चोट करने की हो सकती है।
चूंकि गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव जारी है, ऐसे में प्रधानमंत्री कार्यालय और वित्त मंत्रालय इस मामले में बीच का रास्ता निकालने के लिए माथापच्ची में जुटा है। सूत्रों ने बताया की नोटबंदी की पहली वर्षगांठ पर पीएम मोदी कालाधन, बेनामी संपत्ति और भ्रष्टाचार पर नकेल लगाने के लिए किसी बड़े फैसले की घोषणा करेंगे। इस घोषणा से आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन न हो इसका रास्ता तलाशा जा रहा है। इस दिन पीएम मोदी राष्ट्र को भी संबोधित कर सकते हैं। हालांकि इस पर अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है।
इस घोषणा के जरिए न सिर्फ नोटबंदी के फैसले के साथ डट कर खड़ा रहने का संदेश जाएगा, बल्कि यह भी संदेश जाएगा कि मोदी सरकार भ्रष्टाचार और कालाधन के मामले में किसी भी सूरत में रत्ती भर समझौता करने के लिए तैयार नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here