नोटबंदी से इन कंपनियों के निवेशक हुए मालामाल, आपके पास भी मौके

0
299

एक साल पहले 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक फैसले ने ब्लैक मनी रखने वालों की नींद उड़ा दी थी. इस ऐलान से शेयर बाजार धड़ाम से नीचे चला गया था और इकोनॉमी को बड़ा झटका लगा था. हालांकि एक साल बाद हालात बिल्कुल बदल गए हैं. नोटबंदी के बाद शेयर बाजार ने 20 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है. वहीं, कुछ कंपनियों के शेयर इस दौरान डबल हो गए हैं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि निवेशकों के पास अभी भी कई बड़ी कंपनियों के शेयरों में मोटी कमाई का मौका है.

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में मिला बंपर रिटर्न
नोटबंदी से अब तक निफ्टी ने 21 फीसदी का रिटर्न दिया है. 8 नवंबर 2016 को निफ्टी 8543 के स्तर पर था, जबकि अब निफ्टी 10400 के करीब पहुंच गया है. सेंसेक्स में भी 21 फीसदी का रिटर्न देखने को मिला है. 8 नवंबर 2016 को सेंसेक्स 27591 के स्तर पर था, जबकि अब सेंसेक्स 33430 के स्तर पर पहुंच गया है.

नोटबंदी से अब तक मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स में भी अच्छा रिटर्न देखने को मिली है. 8 नवंबर 2016 को मिडकैप इंडेक्स 15398 के स्तर पर था, जबकि अब मिडकैप इंडेक्स 27 फीसदी बढ़कर 19516 के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं 8 नवंबर 2016 को स्मॉलकैप इंडेक्स 13051 के स्तर पर था, जबकि अब स्मॉलकैप इंडेक्स 37 फीसदी के जोरदार रिटर्न के साथ 17868 के स्तर पर पहुंच गया है।

निवेशक हुए मालामाल
अगर पिछले एक साल में शेयरों के रिटर्न को लेकर बात करें तो सबसे ज्यादा रिटर्न इंडियाबुल्स वेंचर्स के शेयर ने दिया है. एक साल में कंपनी का शेयर 1000 फीसदी उछल गया है. वहीं, रेन इंडस्ट्रीज, अवंती फीड्स, अदानी ट्रांसमिशन, दिलीप बिल्डकॉन और बॉम्बे डाइंग का शेयर 250-500 फीसदी तक चढ़ गए है.

नोटबंदी से इन कंपनियों का कारोबार चमका
वीएम पोर्टफोलियो के हेड विवेक मित्तल के मुताबिक नोटबंदी से टाइटन जैसी कंपनियों को बड़ा फायदा हुआ है. पिछले एक साल में कंपनी का शेयर 100 फीसदी से ज्यादा उछला है.

1.गोदरेज प्रॉपर्टीज
संगठित रियल एस्टेट सेक्टर को नोटबंदी से फायदा हुआ है. मजबूत और साफ-सुथरी बैलेंस शीट वाली कंपनियों पर भी पॉजिटिव असर हुआ. इसीलिए पहली छमाही में कंपनी की सेल्स बुकिंग 3 गुना बढ़ी है.

2.एडेलवाइस
नोटबंदी की वजह से फाइनेंशियल एसेट में निवेश बढ़ा और ब्रोकिंग फर्म, फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनियों को फायदा हुआ. सितंबर तिमाही में आय 26 फीसदी और मुनाफे में 45 फीसदी की ग्रोथ आई है.

3.टीवीएस इलेक्ट्रॉनिक्स
टीवीएस ग्रुप की कंपनी को नोटबंदी का सबसे ज्यादा फायदा मिला. कंपनी आईटी प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग और डिस्ट्रिब्यूशन का काम करती है. कैशलैस पेमेंट मशीन बनाने वाली एकमात्र लिस्टेड कंपनी है. जून तिमाही में आय 8 गुना बढ़ी, घाटे से मुनाफे में आई है.

4.पीएनबी
नोटबंदी से सरकारी बैंकों को बड़ा फायदा हुआ. सरकार ने 2.11 लाख करोड़ रुपये निवेश का एेलान किया है. रीकैपिटलाइजेशन बॉन्ड से बैंकों को 1.35 लाख करोड़ रुपये मिलेंगे. नोटबंदी के दौरान आए डिपॉजिट का होगा इस्तेमाल. कारोबार के टर्नअराउंड पर भी काम जारी है.

अब कहां है कमाई का मौका
> मार्केट एक्सपर्ट सुदीप बंद्योपाध्याय का मानना है कि मिर्जा इंटरनेशनल का शेयर एक साल में 200 रुपए का लक्ष्य हासिल कर सकता है.

> शेयरखान के हेमांग जानी का कहना है कि बजाज फिनसर्व शेयर में निवेश किया जा सकता है. एक साल में शेयर 6000 रुपए तक पहुंच सकता है.

> क्राफ्ट वेल्थ मैनेजमेंट के आशीष कुकरेजा का मानना है कि मण्णपुरम फाइनेंस के शेयर में निवेश कर मोटा मुनाफा कमाया जा सकता है. एक साल में शेयर 130 रुपए के लक्ष्य को हासिल कर सकता है.

> मार्केट एक्सपर्ट अंबरीश बलिगा की पसंदीदा शेयर बीएसई है. उनका मानना है कि शेयर एक साल में 1400 रुपए के लक्ष्य को हासिल कर लेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here