देनी है बिहार बोर्ड के मैट्रिक की 2018 की परीक्षा, तो ये खबर है आपके लिए

0
16

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने शुक्रवार को मैट्रिक वार्षिक परीक्षा-2018 के प्रश्न पत्र का पैटर्न जारी कर दिया है। बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि 100 अंक की थ्योरी में 50 और 80 अंक में 40 वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे। वस्तुनिष्ठ प्रश्न का जवाब ओएमआर शीट पर देना होगा।

इंटर की तर्ज पर ही मैट्रिक में भी 50 फीसद अंक के वस्तुनिष्ठ, 30 फीसद लघु और 20 फीसद अंक के दीर्घउत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे। वस्तुनिष्ठ प्रश्न एक अंक, लघु दो तथा दीर्घउत्तरीय चार, पांच या अधिक अंक के होंगे। इसका विवरण शिक्षक और विद्यार्थी समिति की वेबसाइट www.biharboard.ac.in से डाउनलोड कर प्राप्त कर सकते हैं। सेंटअप और वार्षिक परीक्षा जारी पैटर्न के आधार पर ही होगी।

नए पैटर्न के आधार पर मॉडल प्रश्न पत्र समिति की वेबसाइट पर 15 नवंबर को अपलोड कर दिया जाएगा। ऐच्छिक विषय में ललित कला, नृत्य, संगीत तथा गृहविज्ञान की थ्योरी के प्रश्न पत्र 70 अंक के होंगे।

साइंस में 16 अंक के होंगे दीर्घउत्तरीय प्रश्न

विज्ञान के प्रश्न पत्र में भौतिकी, रसायन शास्त्र तथा जीवविज्ञान से कुल 80 अंक के प्रश्न होंगे। भौतिकी में 13 वस्तुनिष्ठ, छह में से चार लघुउत्तरीय तथा छह अंक के दो में से एक दीर्घउत्तरीय प्रश्न का जवाब देना होगा।

रसायनशास्त्र में 13 वस्तुनिष्ठ, छह में से चार लघुउत्तरीय तथा पांच अंक के दो में से एक दीर्घउत्तरीय प्रश्न का जवाब देना होगा। जीव विज्ञान में 14 वस्तुनिष्ठ, छह में से चार लघुउत्तरीय तथा पांच अंक के दो में से एक दीर्घउत्तरीय प्रश्न का जवाब देना होगा।

गणित और उच्च गणित में 100 अंक के होंगे प्रश्न

गणित और ऐच्छिक उच्च गणित में एक-एक अंक के 50 वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे। दो-दो अंक के 22 लघुउत्तरीय प्रश्न में से 15 का जवाब परीक्षार्थी देंगे। दीर्घउत्तरीय प्रश्न पांच-पांच अंक के होंगे। इनमें प्रत्येक प्रश्न का एक-एक विकल्प होगा।

आपदा प्रबंधन से होंगे छह अंक के प्रश्न

सामाजिक विज्ञान में इतिहास, भूगोल, राजनीति विज्ञान, अर्थशास्त्र तथा आपदा प्रबंधन से 80 अंक के प्रश्न होंगे। इतिहास में 10 वस्तुनिष्ठ, पांच लघुउत्तरीय में से तीन तथा चार अंक के दो में से एक दीघउत्तरीय प्रश्न के जवाब देना होगा। भूगोल में 10 वस्तुनिष्ठ, पांच में तीन लघुउत्तरीय तथा चार अंक के दो में से एक दीर्घउत्तरीय प्रश्न के जवाब देने होंगे।

राजनीति विज्ञान में नौ वस्तुनिष्ठ, तीन में से दो लघु तथा चार अंक के दो में से एक दीर्घउत्तरीय प्रश्न को हल करना होगा। अर्थशास्त्र में नौ वस्तुनिष्ठ, तीन में से दो लघु तथा दो में एक दीर्घउत्तरीय प्रश्न हल करने होंगे। आपदा प्रबंधन से छह अंक के प्रश्न होंगे। दो वस्तुनिष्ठ तथा तीन में से दो लघुउत्तरीय प्रश्न के जवाब देने होंगे।

हिंदी में 10 अंक का होगा निबंध

हिंदी और द्वितीय भारतीय भाषा की परीक्षा 100 अंक की होगी। इसमें 50 वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे। विषयनिष्ठ 50 अंकों में 10 अंक का निबंध होगा। पांच विकल्प में से एक का जवाब 250 से 300 शब्दों में देना होगा। पत्र लेखन के लिए पांच अंक निर्धारित हैं। दो गद्यांश 10-10 अंक के होंगे। प्रत्येक का उत्तर अनिवार्य होगा।

आठ लघुउत्तरीय प्रश्न होंगे, जिनमें से पांच का उत्तर देना होगा। पांच अंक के दो दीर्घउत्तरीय प्रश्न होंगे, जिनमें से एक का जवाब देना होगा। उर्दू और बंगला में 15 लघुउत्तरीय प्रश्न होंगे तथा तीन पांच-पांच के दीघउत्तरीय प्रश्न होंगे।

संस्कृत में छह अंक का होगा अनुवाद

संस्कृत में 50 वस्तुनिष्ठ के अतिरिक्त चार-चार अंक के दो पत्र लेखन होगा। सात अंक का अनुच्छेद लेखन होगा। इसके लिए पांच विकल्प दिए जाएंगे। 10 से छह का अनुवाद करना होगा। हर सही अनुवाद के लिए एक-एक अंक दिए जाएंगे। दो-दो अंक के 12 लघुउत्तरीय प्रश्नों में आठ का जवाब देना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here