हार्दिक पटेल के आगे झुकी कांग्रेस, 8 समर्थकों को देगी टिकट

0
405

कांग्रेस ने युवा पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की मांग मान ली है. कांग्रेस हार्दिक पटेल से सलाह-मशविरा करके आठ उम्मीदवार उतारेगी. वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने बताया कि हार्दिक ने आरक्षण की मांग के अलावा 7-8 टिकट भी मांगे थे. उन्होंने कहा, “हार्दिक की मांग जायज है. हमें पाटीदार बहुल क्षेत्र में मजबूत उम्मीदवार उतारने में कोई गुरेज नहीं है. शेष राज्य में पाटीदार क्षेत्र में उसने हमसे मजबूत उम्मीदवार उतारने की बात कही है.”

उधर, जिग्नेश मेवाणी ने हाल ही में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी. उसने कांग्रेस में शामिल होने से इनकार कर दिया लेकिन इतना जरूर आश्वासन दिया कि वह कांग्रेस का समर्थन करेंगे. पार्टी नेता ने बताया, “मेवाणी ने दलित कल्याण एवं विकास के लिए कुछ खास मांगें सामने रखी हैं जिससे कांग्रेस नेतृत्व सहमत है. उसने हमसे कहा है कि कांग्रेस को ऐसे उम्मीदवारों को टिकट देना चाहिए जो दलित, ओबीसी और पाटीदार समुदाय को स्वीकार्य हों.”

इसी बीच, ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर ने अपने वफादारों के लिए 10-15 टिकट मांगे हैं. सूत्र ने बताया, “हमारी ओर से केवल यही शर्त है कि उन उम्मीदवारों में जीत का माद्दा होना चाहिए. हम हर किसी का चयन नहीं कर सकते. हम जल्द ही उम्मीदवारों की घोषणा करेंगे.”

उधर, हार्दिक पटेल ने कथित सीडी कांड के बाद बीजेपी के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा है कि जनता उनकी सीडी नहीं बल्कि बीजेपी के 22 सालों के विकास कार्यों की सीडी देखना चाहती है. उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, गुजरात की जनता 22 साल के लड़के की नहीं, 22 साल के हुए विकास की सीडी देखना चाहती है. दरअसल राज्‍य में पिछले 22 सालों से बीजेपी सत्‍ता में काबिज है. उसी संदर्भ में हार्दिक पटेल ने यह बात कही.

इससे पहले सोमवार को हार्दिक पटेल की कथित सेक्स सीडी सामने आने से हंगामा मच गया. हालांकि, हार्दिक ने इस तरह की सीडी को लेकर कुछ दिन पहले ही आशंका जताई थी. सोमवार को एक सीडी वायरल हुई जिसमें हार्दिक पटेल की शक्ल से मिलता-जुलता शख्स एक महिला के साथ आपत्तिजनक अवस्था में एक होटल के कमरे में दिखाई दे रहा है. उधर, पटेल ने बीजेपी पर उन्हें बदनाम करने का आरोप लगाते हुए खुद के सीडी में होने से इनकार किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.