SPK News desk, पृथ्वी शॉ मुंबई के 18 वर्षीय क्रिकेटर ने एक और कीर्तिमान स्थापित करते हुए सचिन के रिकॉर्ड के करीब पहुंच गए हैं. शुक्रवार को पृथ्वी ने रणजी मैच में आंध्र प्रदेश के खिलाफ खेलते हुए प्रथम श्रेणी में 5वां शतक जड़ दिया है. सीनियर खिलाड़ियों की मानें तो वह उभरते खिलाड़ियों में सबसे ऊंचे पायदान पर हैं. पृथ्वी कम उम्र में बिना इंटरनेशनल मैच खेले क्रिकेट में कई ऐसे रिकॉर्ड बना रहे हैं, जिसे हजारों क्रिकेटरों में एक या दो ही खिलाड़ी ऐसा कारनामा कर पाते हैं. अपने खेल के बलबूते पृथ्वी हमेशा सुर्खियों में बने रहते हैं. कुल सात प्रथम श्रेणी मैचों अब तक पृथ्वी 5 शतक लगा चुके हैं. आंध्र प्रदेश के खिलाफ खेले जा रहे रणजी मैच में मुंबई के लिए खेलते हुए पृथ्वी ने 65.90 के स्ट्राइट रेट से 173 गेंदों पर 114 रन बनाए. इस इनिंग में उन्होंने कुल 14 चौके और 1 छक्का भी जड़ा. वह अयप्पा बंढारू की गेंद पर आउट होकर पवेलियन लौटे. हालांकि उन्होंने 18 साल की उम्र में कुल 5 सेंचुरी जड़ी है, जोकि सचिन के रिकॉर्ड की बराबरी करने सिर्फ 2 कदम पीछे हैं. सचिन तेंदुलकर ने 18 साल की उम्र में प्रथम श्रेणी में कुल 7 सेंचुरी जड़ी थी. हालांकि पृथ्वी शॉ ने रणजी मैच में कुल 4 शतक लगाए हैं.
पृथ्वी शॉ ने ओडिशा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी ग्रुप ‘सी’ क्रिकेट मैच में 153 गेंद में 18 चौकों की मदद से 105 रन की पारी खेली थी. उस वक्त अजिंक्य रहाणे (49) के साथ दूसरे विकेट के लिए 136 रन की साझेदारी भी की थी. पृथ्‍वी लगातार बल्‍ले से शानदार प्रदर्शन करते हुए टीम इंडिया में प्रवेश के लिए अपना मजबूत दावा पेश कर रहे हैं. इस मैच में पृथ्‍वी ने प्रथम श्रेणी मैचों में चौथा शतक जड़ा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here