SPK News desk, मानुषी छिल्लर हरियाणा की बेटी ने मिस वर्ल्ड-2017 का ताज अपने नाम कर लिया है। उन्होंने शनिवार को चीन के सान्या शहर में हुए रंगारंग कार्यक्रम में दुनियाभर की 118 प्रतियोगियों को पछाड़ा। 17 साल बाद देश के हिस्से यह खिताब आया है। प्रतियोगिता में दूसरा स्थान मिस मैक्सिको और तीसरा स्थान मिस इंग्लैंड को मिला। हरियाणा के झज्जर जिले के बामनोली गांव की रहने वाली 20 वर्षीय मानुषी इस समय सोनीपत के भगत फूल सिंह मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस द्वितीय वर्ष की छात्रा हैं।
अपने नाम का एलान होते ही मानुषी की आंखें छलछला गईं। उन्हें ब्यूटी विद पर्पज का भी खिताब दिया गया। उन्हें पिछले साल की विजेता मिस प्यूर्टोरिको स्टेफनी डेल वैले ने ताज पहनाया। मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने के बाद मानुषी के परिवारजनों ने जमकर जश्न मनाकर अपनी खुशी को बयां किया। साथ ही सदस्यों ने यह भी कहा कि मानुषी ने न सिर्फ परिवार को बल्कि पूरे राज्य का मान बढ़ाया है।
मानुषी से फाइनल राउंड में ज्यूरी सदस्यों ने पूछा कि किस पेशे में सबसे ज्यादा वेतन मिलना चाहिए और क्यों। जवाब में उन्होंने कहा कि मां को सबसे ज्यादा सम्मान मिलना चाहिए। जहां तक वेतन का सवाल है तो इसके लिए उन्हें नकद में वेतन नहीं बल्कि सम्मान और प्यार मिलना चाहिए। मेरी मां सबसे बड़ी प्रेरणा हैं। सभी मां अपने बच्चों के लिए बहुत त्याग करती हैं, इसलिए मॉ की जॉब सबसे अधिक वेतन का हकदार है।
मानुषी से पहले भारत के नाम पांच बार यह खिताब आ चुका है। वेनेजुएला भी छह बार इसे जीत चुका है। इस जीत के साथ ही भारत ने मिस वर्ल्ड का ताज हासिल करने के मामले में वेनेजुएला की बराबरी कर ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here