SPK News desk, शुक्रवार सुबह नाहरगढ़ फोर्ट पर 40 साल के चेतन सैनी की लाश लटकी मिली थी। पास में ही पत्थरों पर लिखा मिला था कि पद्मावती का विरोध करने वालों हम सिर्फ पुतले नहीं जलाते हैं। उसके मोबाइल से पता चला है कि फांसी लगाने के पहले उसने किले पर करीब पांच सेल्फी भी ली थीं। परिवार का कहना है कि पत्थरों पर लिखी राइटिंग उसकी नहीं है। 8 से 10 लाख रुपए कर्ज की बात भी सामने आ रही है।
घटनास्थल के आसपास पत्थरों पर विवादित करीब 5 लाइन लिखी मिलीं। 1.पद्मावती का विरोध करने वालों हम सिर्फ पुतले नहीं जलाते हैं। 2.हम किले पर सिर्फ पुतले नहीं टांगते। 3. लुटेरे नहीं अल्लाह के बंदे हैं, एक-एक दस पर भारी है। 4. चेतन तांत्रिक मारा गया। 5. ये तो सिर्फ एक झांकी है, शुरुआत अभी बाकी है।
चेतन जयपुर के नाहरी नाका स्थित ज्ञान मार्ग पंचमुखी कॉलोनी मे रहता था। वह आर्टिफिशियल ज्वैलरी का काम करता था। माना जा रहा है कि आरोपियों ने पद्मावती को इश्यू बनाकर पुलिस को भटकाने और मामले को सांप्रदायिक रंग देने का प्रयास किया है।
पुलिस को चेतन का मोबाइल मिला। इसमें 5 सेल्फी मिलीं। ये उसकी मौत के पहले की हो सकती हैं, क्योंकि ये ठीक उसी जगह की हैं, जहां उसकी लाश लटकी मिली। मोबाइल की लोकेशन ट्रेस करने पर पुलिस को पता चला की शाम साढ़े पांच बजे से चेतन नाहरगढ़ पर ही था। उसके परिवार का कहना है कि पत्थरों पर जो भी लिखा गया है, वो चेतन ने नहीं लिखा है, क्योंकि ये चेतन की हैंडराइटिंग नहीं है। चेतन पर करीब 10 लाख रुपए का कर्ज था। घटना वाले दिन उसकी पत्नी को एक कर्जदार का भी फोन आया था। उसकी वाइफ नीतू ने गुरुवार देर रात से शुक्रवार सुबह तक करीब 56 बार फोन किए थे। उसके फोन से यह बात पता चली। चेतन गुरुवार को करीब 3.30 बजे बच्चों को स्कूल से घर छोड़कर बाजार गया था। इसके बाद उसने वाइफ को शाम 5 बजे फोन कर कहा था कि वो रात 9 बजे तक घर आएगा। खाना बना देना। जब वह घर नहीं आया तो नीतू ने कई बार फोन किए, लेकिन कोई रिस्पांस नहीं मिला।
आत्महत्या है या हत्या है- जिस रस्सी से चेतन का शव लटकता पाया गया है, वह बड़ी और मोटी है। ऐसी रस्सी पर खुद गांठ लगाकर फंदे से लटकना आसान नहीं है। चेतन ने शाम 5:30 बजे सेल्फी ली थी। पत्नी को फोन कर कहा था कि रात 9 बजे तक घर आ जाऊंगा, खाना बना लेना। पत्थरों पर विवादित बयान कोयले से लिखे हैं। चेतन की उंगलियों या हाथों पर कोयले के निशान नहीं हैं।
चेतन का कारोबार के सिलसिले में कुछ लोगों से लेन-देन विवाद था। पुलिस के मुताबिक वह हाल ही किसी से पैसे लेने सीकर भी गया था। पुलिस भी प्रथम दृष्ट्या हत्या की आशंका जता रही है।
चेतन दोपहर 3:30 बजे घर से निकला था। मोबाइल लोकेशन 3:50 पर चांदपोल एरिया की। इसके बाद 5:20 से नाहरगढ़ की।
जिस रस्सी से शव लटक रहा था, वह बिल्कुल नई थी। उसके चेहरे पर हल्के चोट के निशान थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.