Jharkhand : थोड़ा शासन सुधरे, थोड़ा हम, तो रांची बन जाये सिटी नंबर-1, कट बंद होने के होंगे कई फायदे

0
138

रांची : राजधानी रांची की परिवहन व्यवस्था चरमरा गयी है. गाड़ियां शहर में चलती नहीं, रेंगती हैं. सरकार की मंशा है कि वाहनों की स्पीड को ब्रेक न लगे, लेकिन शहर के लोग इसके लिए तैयार नहीं हैं. ट्रांसपोर्ट व्यवसाय से जुड़े लोग तैयार नहीं हैं. अपने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए लोग कानून अपने हाथ में लेने के लिए तत्पर हो गये हैं. बिना यह सोचे कि इसका अंजाम क्या होगा. शुक्रवार को लोगों ने जो कुछ भी किया, उससे परेशानी उन्हें भी हुई. उनके बच्चों को भी हुई. इस सड़क से गुजरने वाले एक-एक व्यक्ति को हुई. लोग यह भूल गये कि कानून हाथ में लेना किसी समस्या का हल नहीं है. समस्या का हल बातचीत से ही होगा, कानून तोड़ने से नहीं.दरअसल, किशोरगंज चौक ओर कार्तिक उरांव चौक पर गुरुवार की रात जिस कट को प्रशासन ने बंद करवा दिया था, शुक्रवार की सुबह चौक और आसपास के लोगों ने उसे जबरन तोड़ डाला. सड़क पर जमकर देर तक हंगामा किया. नगर विकास मंत्री सीपी सिंह और मुख्यंत्री रघुवर दास को परेशानी के बारे में बताया. लोगों की समस्या सुनकर मुख्यमंत्री रघुवर दास किशोरगंज चौक पहुंचे. स्थिति देखी. तत्काल एक कट छोड़ने का आदेश दिया. कहा कि सेवा सदन अस्पताल जाने के लिए सड़क छोड़ें. ऐसा नहीं किया, तो बीमार लोगों को अस्पताल पहुंचाने में समस्या होगी. इतना ही नहीं, मुख्यमंत्री ने यह भी आदेश दिया कि हर 500 मीटर पर लोगों के आने-जाने के लिए थोड़ी-सी जगह छोड़ी जाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here