लालू की सुरक्षा कटौती पर CM नीतीश का ट्वीट, मिली सुरक्षा से रौब गांठना सही है?

0
358

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नेताओं की सुरक्षा में की गई कटौती पर ट्वीट कर लिखा है कि मिली सुरक्षा को लेकर लोग रौब गांठते थे। बिहार सरकार ने भी तो इन्हें सुरक्षा दे रखी है।
पटना । लालू यादव, शरद यादव और जीतमराम मांझी की सुरक्षा में कटौती को लेकर चल रहे विवाद से बिहार की राजनीति में बयानों के तीखे तीर चलाए जा रहे हैं। इस मामले में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तंज कसते हुए कहा है कि सुरक्षा का जाया इस्तेमाल करने वालों को परेशानी तो होगी ही।

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की सुरक्षा में केंद्र सरकार द्वारा की गई कमी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली बार बयान जारी किया है। नीतीश ने लालू पर तंज कसते हुए कहा है कि लालू की अतिरिक्त सुरक्षा की मांग करना लोगों पर रौब झाड़ने की मानसिकता का परिचायक है।

उन्होंने ट्वीट में लिखा कि राज्य सरकार द्वारा ‘Z’ Plus और एसएसजी की मिली हुई सुरक्षा के बावजूद केंद्र सरकार से NSG और CRPF के सैकड़ों सुरक्षा कर्मियों की उपलब्धता के जरिए लोगों पर रौब गांठने की मानसिकता, साहसी व्यक्तित्व का परिचायक है!

एक तरफ जहां लालू की सुरक्षा को जेड प्लस से घटाकर जेड कैटेगरी का कर दिया गया है और उनकी एनएसजी की सुरक्षा भी वापस ले ली गई है तो वहीं दूसरी तरफ जीतन मांझी को अब केंद्र सरकार की तरफ से किसी भी प्रकार की सुरक्षा नहीं दी जाएगी।

गौरतलब है कि लालू प्रसाद यादव ने केंद्र सरकार के इस फैसले का जवाब देते हुए आरोप लगाया था कि उनकी सुरक्षा में कमी के बाद अगर उनकी जान को किसी प्रकार का खतरा होता है या कोई घटना उनके साथ होती है तो इसके लिए सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिम्मेदार होंगे।

इसी धमकी का जवाब देते हुए आज नीतीश कुमार ने ट्वीट के जरिए अपना बयान जारी किया है।

बता दें कि लालू यादव की सुरक्षा में कटौती किए जाने की बात पर सोमवार को उनके बड़े बेटे तेजप्रताप ने पीएम मोदी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी, जिसके बाद राजनीतिक महकमे में खूब बयानबाजी हुई। बीजेपी नेताओं ने जहां लालू यादव को अपने बेटे का इलाज मनोचिकित्सक से कराने की सलाह दे डाली तो वहीं दिल्ली के एक पुलिस स्टेशन में तेजप्रताप के खिलाफ एफआइआर भी दर्ज किया गया है।

तेजप्रताप के पीएम के लिए दिए गए इस आपत्तिजनक बयान पर प्रमुख राजनेताओ ने घोर आपत्ति की है। इससे पहले भी तेजप्रताप यादव ने बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी को भी धमकी दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.