CM नीतीश ने टवीट कर लालू से पूछा- माल-मॉल की चिंता, सबसे बड़ी देशभक्ति है !

0
147

पटना [जेएनएन]। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज अहले सुबह ट्वीट कर राजद प्रमुख लालू प्रसाद और उनके परिजनों पर निशाना साधा है। केंद्र सरकार द्वारा लालू प्रसाद की जेड प्लस सुरक्षा हटाये जाने के बाद शुरू हुए आरोप-प्रत्यारोप पर नीतीश कुमार ने ट्वीट कर पूछा है कि ‘जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता, सबसे बड़ी देशभक्ति है!’जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता,सबसे बड़ी देशभक्ति है !भले केंद्र सरकार ने बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा में कटौती की हैं लेकिन बवाल बिहार की राजनीति में तेज हो गया है। राजद अध्यक्ष लालू यादव ने तो यहां तक कह दिया कि अगर उनके ऊपर कोई हमला हुआ तो उसके लिए केंद्र और बिहार के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार ज़िम्मेवार होंगे। इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी चुप्पी तोड़ी और ट्वीट किया।लालू पर तंज कसते हुए उन्होंने लिखा, राज्य सरकार द्वारा जेड प्लस और एसएसजी की मिली हुई सुरक्षा के बावजूद केंद्र सरकार से एनएसजी और सीआरपीएफ के सैंकड़ों सुरक्षा कर्मियों की उपलब्धता के जरिए लोगों पर रौब दिखाने वाली मानसिकता, साहसी व्यक्तित्व का परिचायक है। नीतीश ने कहा-12 साल से सीएम हूं, पर आज तक जेड प्लस सुरक्षा नहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को विधानसभा स्थित अपने कक्ष में पत्रकारों से कहा कि वह 12 साल से सीएम हैं, पर उनको आज तक जेड प्लस सुरक्षा नहीं है। उनकी सुरक्षा में सीआरपीएफ और एनएसजी भी नहीं है और न ही कभी इसकी तमन्ना की। कहा कि सुरक्षा में कटौती करना केन्द्र सरकार का मामला है। इससे उनका कोई लेना-देना नहीं है।उन्होंने कहा कि जब वह विधायक थे, तो उनके पास कोई सिक्योरिटी नहीं थी। सांसद बने तो सिर्फ एक सुरक्षाकर्मी था। वहीं, एक समय सिर्फ उनको और लालू प्रसाद को विशेष सुरक्षा मुहैया कराने का नियम बना। मगर सुरक्षा मिली सिर्फ लालू जी को। उन्होंने तो कभी इसकी इच्छा भी जाहिर नहीं की। राज्य में तो सभी पूर्व मुख्यमंत्री को जेड प्लस की सुरक्षा है ही। सीआरपीएफ है, एसएसजी है।हालांकि मैं सीएम हूं, फिर भी जेड प्लस सुरक्षा नहीं है। सीएम ने कहा कि कोई अनहोनी होनी होगी तो कोई रोक सकता है क्या। पूर्व पीएम स्वर्गीय इंदिरा गांधी को तो उनके सुरक्षाकर्मी ने ही मार दिया था।लालू ने कहा था-मुझे कुछ हुआ तो इसके जिम्मेवार पीएम मोदी और नीतीश होंगेगौरतलब है कि केंद्र द्वारा अपनी सुरक्षा घटाने के फैसले पर लालू ने सोमवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला था। उन्होंने पटना में कहा था, ‘अगर नरेंद्र मोदी सोचते हैं कि मैं डर गया हूं तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। सभी लोग, यहां तक कि बिहार के बच्चे भी मेरी रक्षा करेंगे।’लालू ने इसे साजिश बताते हुए कहा कि अगर उन्हें कुछ हुआ तो सूबे के सीएम नीतीश कुमार और पीएम मोदी इसके जिम्मेदार होंगे।तेजप्रताप ने पीएम मोदी के खिलाफ की थी आपत्तिजनक टिप्पणी
बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा राजद प्रमुख लालू प्रसाद की जेड प्लस सुरक्षा हटाने के साथ ही पक्ष-विपक्ष में बयानबाजी चरम पर है। एक ओर जहां लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुके हैं, वहीं लालू प्रसाद छोटे बेटे व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपने पिता की हत्या की साजिश रचे जाने का आरोप लगाया है।सुशील मोदी ने लालू पर कसा था तंजतेज प्रताप यादव द्वारा प्रधानमंत्री पर टिप्पणी करने के बाद उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा था कि लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव जब इतने बड़े बाहुबली हैं कि वे देश के प्रधानमंत्री के बारे में भी इतनी बड़ी बात कर सकते हैं, तब उनके पिता की जान को किससे खतरा हो सकता है। खतरा अगर अपनों से हो, तब तो कोई भी सुरक्षा घेरा कम पड़ जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here