राहुल गांधी की ताजपोशी की तैयारियां तेज, शहजाद पूनावाला ने चुनाव पर उठाए सवाल

0
153

नई दिल्ली राहुल गांधी को कांग्रेस की कमान सौंपे जाने से पहले पार्टी के भीतर से ही उनके खिलाफ आवाज उठने लगी है। महाराष्ट्र कांग्रेस के सचिव शहजाद पूनावाला ने राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्होंने कहा है कि एक परिवार से किसी एक को ही पद मिलना चाहिए, चाहे वह कोई भी हो। उन्होंने अध्यक्ष चुने जाने की पूरी प्रक्रिया को ही पाखंड करार दिया है। दूसरी तरफ कांग्रेस में राहुल की ताजपोशी की तैयारियां जोरों पर हैं। टॉप कॉमेंटजिस पार्टी मे ही लोकतंत्र नही है…… वो देश के लोकतंत्र का क्या सम्मान करेगी…… क्या समझेगी….सभी कॉमेंट्स देखैंकॉमेंट लिखें टीवी पर अकसर पार्टी का पक्ष रखते हुए नजर आने वाले शहजाद पूनावाला ने कहा, ‘मुझे लगता है कि एक परिवार से किसी एक को ही टिकट मिलना चाहिए, चाहे वह शहजाद पूनावाला हों या राहुल गांधी।’ पूनावाला ने चुनाव की प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘कांग्रेस अध्यक्ष के लिए होने वाला चुनाव, चुनाव नहीं चयन है। चुनाव की यह प्रक्रिया पाखंड है।’पूनावाला ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव पूरी तरह फिक्स है। उन्होंने कहा, ‘मुझे यह जानकारी मिली है कि जो प्रतिनिधि पार्टी अध्यक्ष के चुनाव के लिए वोट डालने जा रहे हैं, वे गुप्त रूप से फिक्स हैं। उन्हें उनकी वफादारी के लिए नियुक्त किया गया है।’ पूनावाला ने कहा कि वह जानते हैं कि अब उनपर हमले किए जाएंग। उन्होंने कहा, ‘हां, इस पर बोलने के लिए हिम्म्त चाहिए। मुझ पर अब सभी तरह के हमले किए जाएंगे पर मेरे पास तथ्य हैं।’शहजाद पूनावाला ने चुनाव पर उठाए सवाल कांग्रेस मुख्यालय में तैयारियां जोरों पर इस बीच कांग्रेस मुख्यालय में राहुल गांधी की ताजपोशी की तैयारियां जोरों पर हैं। राहुल गांधी के नामांकन पत्र भरने को लेकर व्यवस्थाएं की जा रही हैं। चुनाव प्रक्रिया के तहत शुक्रवार से नामांकन पत्र दाखिल किए जाने हैं। बताया जा रहा है कि राहुल गांधी 3 दिसंबर को नामांकन पत्र दाखिल करेंगे, क्योंकि राहुल 1 और 2 दिसंबर को केरल में रहेंगे। कांग्रेस की सेंट्रल इलेक्शन अथॉरिटी के चेयरमैन मुल्लापल्ली रामचंद्रन चुनाव में रिटर्निंग ऑफिसर की भूमिका में रहेंगे। व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए उन्होंने बुधवार को प्रदेश के रिटर्निंग अफसरों (PROs) के साथ बैठक की। सभी PROs से कहा गया है कि अपने-अपने प्रदेश में जाकर नामांकन पत्र से जुड़ी व्यवस्थाओं पर नजर रखें। माना जा रहा है कि राहुल गांधी को चुनाव का सामना नहीं करना पड़ेगा, उन्हें निर्विरोध चुन लिया जाएगा। अगर कोई और पद पर दावेदारी करना चाहेगा तो उसके लिए जरूरी होगा कि प्रदेश कांग्रेस कमिटी के 10 प्रतिनिधि उनका नाम प्रस्तावित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here