सीएम विजय रुपाणी की रैली में मदद के लिए चीखीं शहीद की बेटी

0
135

अहमदाबाद गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर पूरे प्रदेश में इस समय जमकर प्रचार हो रहा है। इसी कड़ी में गुरुवार को केवाडिया कॉलोनी में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी रैली कर रहे थे। इसी दौरान भूमि मुआवजा की मांग करते हुए शहीद की बेटी सिक्यॉरिटी लांघते हुए सीएम के नजदीक जाने की कोशिश करने लगी और कुछ देर के लिए रैली में हलचल मच गई। दरअसल शहीद अशोक ताडवी की बेटी काफी समय से भूमि मुआवजा की मांग कर रही हैं और उन्हें आस थी कि मुख्यमंत्री जरूर उनकी बात सुनेंगे। इस वजह से गुरुवार को जैसे ही मुख्यमंत्री अपना भाषण शुरू करने जा रहे थे, महिला उनके नजदीक जाने लगी लेकिन पुलिस बल ने उन्हें पकड़कर किनारे कर दिया। इस वाकये का विडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें सीएम रूपाणी महिला को रैली खत्म होने के बाद मिलने का आश्वासन देते हुए पुलिसकर्मियों को उन्हें किनारे ले जाने की बात कह रहे हैं। लेटेस्ट कॉमेंट अगर ताडवी के परिवार को मुआवजा दिया जा चुका तो उसकी बेटी को पागल कुत्ते ने नही काटा है की वह इस पर बोले कितना झूट बोलते है नेता और कितना सपोर्ट करते है झुटे लोगो को मीडिया मे बेठे द…+महिला पुलिसकर्मी शहीद ताडवी की बेटी को घसीटकर किनारे ले जा रही थीं लेकिन वह लगातार सीएम रूपाणी से मिलने की गुहार लगाते हुए चीख रही थीं। सूत्रों के मुताबिक, 2002 में श्रीनगर में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान ताडवी शहीद हो गए थे। तब तत्कालीन राज्य सरकार ने उनके परिवार को मुआवजा के रूप में जमीन देने का वादा किया था लेकिन परिवार का कहना है कि सरकार अब तक अपना वादा पूरा नहीं कर पाई है। दूसरी ओर रूपाणी ने ट्वीट किया कि ताडवी के परिवार को मुआवजा दिया जा चुका है। सीएम ने लिखा, ‘रेखाबेन अशोक ताडवी को चार एकड़ जमीन के साथ 10,000 रुपए मासिक पेंशन और 36,000 रुपए वार्षिक पेंशन बीजेपी दिया जाता है। इसके अलावा उन्हें 200 वर्ग मी. का हाउजिंग प्लॉट भी दिया जाएगा।’ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर इस घटना का विडियो शेयर करते हुए घटना को शहीद की बेटी का अपमान बताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here