SPK News desk, 9000 हजार करोड़ रुपये का कर्ज नहीं चुका पाने के मामले भगोड़ा घोषित किए गए भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर सुनवाई लंदन के वेस्टमिंस्टर मैजिस्ट्रेट्स कोर्ट में आज शुरू हो जाएगी. इससे पहले माल्या के वकील की ओर से दलील दी गई थी कि भारतीय जेलों में विजय माल्या की जान को खतरा हो सकता है. इसके साथ ही वकील ने भारतीय जेलों में मानवाधिकार उल्लंघन के कई मामले भी पेश किए. वहीं आज भारत सरकार की ओर से इस बात पर दलील दी जाएगी कि भारत में कैदियों की हालत कई देशों की तुलना में बहुत बेहतर है. लंदन के वेस्टमिंस्टर मैजिस्ट्रेट्स कोर्ट को बताया जाएगा कि कैदियों की सुरक्षा सुनिश्चित करना राज्य का कर्तव्य है और जान को खतरे की माल्या की आशंका भ्रम फैलाने की कोशिश है. ब्रिटेन से भारत प्रत्यर्पित होने पर विजय माल्या को मुंबई के आर्थर रोड जेल में रखा जाएगा. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस (सीपीएस) के जरिये भारत ब्रिटेन की अदालत को इस बारे में सूचित करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here