बेनामी संपत्ति मामले में आज मीसा-शैलेष से ईडी करेगी पूछताछ

0
4

पटना । ईडी आज फर्जी शैल कंपनियों द्वारा निवेश के मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की बड़ी बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेष कुमार से पूछताछ करेगी। जानकारी के मुताबिक ईडी ने दोनों को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है।लालू की बड़ी बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश से पहले भी प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने पूछताछ किया है, लेकिन एक बार फिर आज दिल्ली में पूछताछ की जायेगी। दोनों से होने वाली इस पूछताछ की ईडी के वरिष्ठ सूत्रों ने भी पुष्टि की है।अब तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक शैलेश से पूछताछ करने के बाद ईडी मीसा भारती को भी पूछताछ के लिये बुला सकती है। ईडी ने इस मामले में मीसा भारती और शैलेश दोनों को नोटिस भेजा था लेकिन आज सिर्फ शैलेश से पूछताछ होगी।मालूम हो कि शनिवार को ईडी की टीम ने रेलवे टेंडर घोटाले से जुड़े मामले में राबड़ी देवी से पटना स्थित कार्यालय में लगभग 6 घंटे तक पूछताछ की थी।बताया जा रहा है कि लालू के बड़े दामाद शैलेश से दिल्ली के 26 पालम मार्ग में स्थित उनके फार्म हाउस के साथ उसकी खरीदारी और पैसों के लेन-देन के मामले में पूछताछ की जायेगी। इससे पूर्व छह महीने पहले ही प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने फार्म हाउस को जब्त करने की नोटिस दे दी थी।विभागीय सूत्रों की मानें, तो ईडी के अधिकारी शैलेश और मीसा भारती के उत्तर से संतुष्ट नहीं हैं। इससे पूर्व, बेनामी संपत्ति मामले में लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती से जुलाई में ईडी ने मैराथन पूछताछ की थी। पूछताछ के दौरान मीसा से फार्म हाउस की खरीद के लिए पैसे के स्रोत के बारे में पूछा गया था। इसके अलावा मिशेल पैकर्स एंड प्रिंटर्स में किन लोगों ने निवेश किया है और कंपनी क्या काम करती है, इस विषय में भी विस्तार से पूछताछ की गयी थी। सूत्रों के मुताबिक मीसा से यह भी सवाल पूछा गया कि आखिर इतनी महंगी संपत्ति उन्हें इतने कम पैसे में क्यों दिये गये? छापे के दौरान जब्त दस्तावेजों के अलावा सीए राजेश अग्रवाल और जैन बंधुओं से संबंध को लेकर विस्तृत सवाल पूछे गये थे।सूत्रों का कहना था कि मीसा कई प्रश्नों के संतोषजनक उत्तर नहीं दे पायी थी। साथ ही कई मामलों में याद न होने की बात भी कही थी। उनके साथ उनके पति शैलेश भी प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर में मौजूद थे। उसी समय यह कयास लगाये गये थे कि पूछताछ के लिए दोनों को फिर बुलाया जा सकता है।गौरतलब है कि पहले प्रवर्तन निदेशालय ने मीसा के तीन फार्म हाउस पर छापेमारी की थी और पहले ही आयकर विभाग इस मामले की जांच कर रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here