यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल सूची में दूसरे स्थान पर ताजमहल

0
865

आगरा. मोहब्बत की निशानी और दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताजमहल अब यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों की सूची में दूसरे स्थान पर आ गया है। यह बात एक सर्वे में सामने आई है। जिसमें ताजमहल को दुनिया के धरोहरों में दूसरा स्थान दिया गया है। सर्वे में कंबोडिया के अंकोरवाट मंदिर के पहले स्थान पर है। दुनिया भर से प्रतिवर्ष करीब लाखों लोग ताजमहल का दीदार करने भारत आते हैं।

-सर्वे में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की प्रतिक्रिया के आधार पर विश्वभर के सर्वश्रेष्ठ यूनेस्को सांस्कृतिक और प्राकृतिक धरोहर स्थलों की एक सूची जारी की है। इसमें अंकोरवाट की निर्माण प्रक्रिया और इतिहास के बारे में दिलचस्प तथ्यों का ब्यौरा है। इस सूची में प्रदर्शित अन्य स्मारकों में पेरू में दक्षिण अमेरिका के माचू पिचू, ब्राजील के इगाजु नेशनल पार्क, इटली का सासी ऑफ मटेरा, इजरायल का यरूशलम और तुर्की में इस्तांबुल के ऐतिहासिक क्षेत्रों को शामिल किया गया है।

कहां हैं ताजमहल

-ताजमहल यूपी के आगरा शहर में स्थित एक विश्व धरोहर मकबरा है। इसका निर्माण मुगल सम्राट शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में करवाया था।
-ताजमहल मुग़ल वास्तुकला का उत्कृष्ट नमूना है। साल 1983 में ताजमहल को युनेस्को विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया था।

क्या करता है यूनेस्को

-बता दें कि यूनेस्को संयुक्त राष्ट्र का एक ऐसा संगठन है, जो सांस्कृतिक और प्राकृतिक विरासत स्थलों को सूचीबद्ध करता है। यूनेस्को (UNESCO) का पूरा नाम संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.