पांच घंटे कार में तड़पते रहे मासूम, मां-बाप देखते रहे मरीज

0
508

यूपी के बलिया स्थित जिला अस्पताल की पार्किंग में एक कार के अंदर लगभग पांच घंटे तक तीन मासूम + बच्चे तड़पते रहे, उधर उनके मां-बाप मरीज का हालचाल लेने में व्यस्त रहे। जब दम घुटने लगा और बच्चों ने कार का शीशा पीटना शुरू किया, तब कुछ राहगीरों की नजर पड़ी। राहगीरों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। आनन-फानन में मौके पर पहुंची पुलिस ने कार का दरवाजा खुलवाया। बाहर आए बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल था।

जिला अस्पताल + परिसर में शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे कार में तीन बच्चों को बंद करके चालक भर्ती मरीज को देखने चला गया। इधर, करीब 5 घंटे तक कार में बंद रहने के कारण बच्चों की हालत खराब होने लगी। बच्चे कार के अंदर शोर मचाने लगे और शीशा पीटने लगे। दोपहर करीब एक बजे कुछ राहगीरों की नजर कार पर पड़ी। लोगों ने यूपी-100 को फोन कर इसकी सूचना दी।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से बच्चों को कार से बाहर निकाला। इसी बीच परिजन भी पहुंच गए। पुलिस ने बताया कि परिजन बिहार के बक्सर जिले के फुलहरिया गांव के रहने वाले हैं। शुक्रवार को वे जिला अस्पताल में भर्ती एक महिला रिश्तेदार को देखने के लिए आए थे। लापरवाही के कारण वे अपने बच्चों को कार में ही भूल गए। पुलिस ने इस लापरवाही के लिए परिजनों को फटकार भी लगाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here