बिहार : बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस में डकैती, पांच जवान सस्पेंड

0
199

बख्तियारपुर : राजगीर-बख्तियारपुर रेलखंड के करनौती हॉल्ट के पास रविवार की मध्य रात्रि बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस में अपराधियों ने डकैती की घटना को अंजाम दिया. करीब 10 की संख्या में रहे नकाबपोश हथियारबंद अपराधियों ने ट्रेन की चार बोगियों को निशान बनाते हुए करीब 20 रेलयात्रियों से हजारों रुपये नकद व दर्जनों मोबाइल फोन लूट लिये. लूटपाट का विरोध करनेवाले यात्रियों के साथ डकैतों ने मारपीट भी की.

घटना की आधिकारिक पुष्टि करते हुए पटना रेल एसपी जितेंद्र मिश्रा ने बिहारशरीफ रेल थानाध्यक्ष ज्योति प्रकाश सहित घटना के वक्त ट्रेन का स्कॉट कर रहे रेल पुलिस के चार जवानों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए पांचों पर विभागीय जांच की अनुशंसा की है. घटना के संबंध में बताया जाता है कि राजगीर से वाराणसी को जानेवाली ट्रेन संख्या 14223 बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस ट्रेन रविवार-सोमवार की सुबह करीब साढ़े 12 बजे हरनौत रेलवे स्टेशन पहुंची.

ट्रेन जैसे ही हरनौत स्टेशन से खुल कर करनौती हॉल्ट के पास से गुजरी कि पूर्व से ट्रेन पर सवार हथियारबंद अपराधियों ने उक्त हॉल्ट पर चेन पुलिंग कर ट्रेन रोक दी. ट्रेन के रुकते ही बाहर खड़े करीब 10 नकाबपोश हथियारबंद अपराधियों ने विभिन्न चार बोगियों में धावा बोल कर अंदर बैठे यात्रियों के साथ लूटपाट शुरू कर दी.

करीब 30 मिनट तक लूटपाट करने के बाद सभी अपराधी उक्त स्थान पर उतर कर हाईवे की ओर हथियार लहराते हुए फरार हो गये. घटना की विस्तृत जानकारी देते हुए लूटपाट के शिकार राजगीर निवासी पीयूष प्रियदर्शी ने टेलीफोन पर बताया कि लुटेरों ने उनके साथ मारपीट कर उनके पास रहे नकद पांच हजार रुपये व उनके मोबाइल फोन लूट लिये. घटना के समय करीब 30 मिनट तक ट्रेन उसी हॉल्ट पर खड़ी रही. घटना के बाद यात्रियों ने मामले की जानकारी ट्रेन के बख्तियारपुर पहुंचने के बाद बख्तियारपुर रेल थानाध्यक्ष को दी.

ये हुए निलंबित

रेल थानाध्यक्ष ज्योति प्रकाश
सिपाही संख्या: 629 शंभु यादव
सिपाही संख्या: 341, गौतम दास
सिपाही संख्या: 727, विजय झा
गृहरक्षक संख्या: 7781, बालेश्वर झा

पीड़ित यात्री

एजाज आलम, छज्जु मोहल्ला, बिहारशरीफ
उपेंद्र कुमार, मगध कॉलोनी, बड़ी पहाड़ी, बिहारशरीफ
गणेश कुमार, हॉस्पिटल मोड़
रजनीश कुमार नालंदा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here