पेेंशन धारकों के लिए खुशखबरी, राज्य सरकार दूर करेगी परेशानियां, जानिए

0
438

बिहार सरकार ने निर्देश दिया है कि पेंशनधारकों को उनके बैंक खातों में राशि भेजने की प्रक्रिया अविलंब शुरू की जाए और पेंशन धारकों को कैंप में बुलाकर आधार कार्ड बनाया जाना चाहिए।
पटना । समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा लागू सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का कार्यान्वयन और पेंशन भुगतान की समस्याओं का समाधान करने का आदेश अफसरों को दिया है। साथ ही 67 लाख पेंशनधारकों को उनके बैंक खातों में राशि भेजने की प्रक्रिया अविलंब आरंभ कराने को कहा।

बुधवार को विभाग में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने निर्देश दिया कि जनवरी में सभी प्रखंडों में 15 दिनों का कैंप लगाकर पेंशन भुगतान में होने वाली समस्या का निराकरण कराएं। जिन पेंशन धारकों का अभी तक आधार कार्ड नहीं बना है, उन्हें कैंप में बुलाकर आधार कार्ड बनाएं।

बैठक में प्रधान सचिव अतुल प्रसाद एवं समाज कल्याण निदेशक रमाशंकर प्रसाद दफ्तुआर मौजूद थे। समीक्षा के दौरान यह बात सामने आई कि अभी तक करीब 64 लाख पेंशन धारकों का बैंक खाता खुल चुका है और शेष 3 लाख पेंशन धारकों को बैंक खाते खोलने के लिए बैंकों से कैंप में सहयोग लिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि जून तक का पेंशन सभी लाभुकों को मिल चुका है। जुलाई से बकाये पेंशन का भुगतान होना है। पेंशन की राशि अब लाभुकों के बैंक खातों में सीधे भेजी जाएगी।

नए साल में सभी अनुमंडलों में बुनियाद केंद्र खोलने का निर्देश

बैठक में सभी 101 अनुमंडलों में बुनियाद केंद्र खोलने को प्राथमिकता देने को कहा गया। अभी 20 अनुमंडलों में बुनियाद केंद्र संचालित हो रहे हैं। इसी तरह दिव्यांगों के लिए 11 जिलों में मोबाइल थेरेपी वैन संचालित है, जबकि 13 और जिलों के लिए मोबाइल थेरेपी वैन आ चुका है जिसे जल्द ही रवाना किया जाएगा।

वैन से होंगे ये काम

मोबाइल आउटरीच थेरेपी वैन के माध्यम से दूरस्थ क्षेत्रों में रह रहे दिव्यांगों, विधवाओं व वृद्धजनों को उनके घर के पास ही थेरेपी और कांउसिलिंग की सेवा उपलब्ध कराई जाएगी। इसमें आंख-कान की जांच भी शामिल है। वृद्धजनों, विधवाओं और दिव्यांगों के हक कैसे उन्हें मिले इस बारे में उन्हें शिक्षित किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here