राधिका आप्टे को मिला था पहले पीरियड्स पर तोहफा

0
344

मौका था, मुंबई में अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म ‘पैडमैन’ के सॉन्ग लॉन्च का। इस मौके पर अक्षय अपनी असली और फिल्मी दोनों पत्नियों यानी ट्विंकल खन्ना और पैडमैन में उनकी पत्नी की भूमिका निभानेवाली राधिका आप्टे के साथ नजर आए। ‘पैडमैन’ के निर्देशक आर बाल्की और संगीतकार अमित त्रिवेदी भी कार्यक्रम के दौरान मौजूद थे। फिल्म की स्टारकास्ट ने मीडिया के तमाम सवालों का जवाब दिया।

बिल गेट्स की तारीफ बड़ी बात है
इस अवसर पर अक्षय एक नए लुक में नजर आए। अक्षय ने अपने बाल बिलकुल छोटे-छोटे करवा लिए हैं जिनमें से सफेदी झलक रही थी। अक्षय से जब पूछा गया कि उनके इस लुक की तुलना हॉलिवुड ऐक्टर जॉर्ज क्लूनी से की जा रही है, तो वह मुस्कुराते हुए बोले, ‘यह मेरे लिए बहुत बड़ी तारीफ है। मैं अपने सफेद बालों को छिपाने में यकीन नहीं रखता।’ अक्षय की फिल्म ‘टॉइलट एक प्रेम कथा’ पर बिल गेट्स द्वारा गई तारीफ पर अक्षय का कहना था, ‘मैं उस वक्त स्टेज पर था, जब ‘टॉइलट एक प्रेम कथा’ पर बिल गेट्स के कई ट्वीट्स आए। मैं बहुत चकित हुआ। आज से डेढ़ साल पहले तक खुले में शौच करनेवालों का प्रतिशत 54 था और अब इस फिल्म के बाद यह 37 प्रतिशत हुआ है। अब पैडमैन के जरिए हम महिलाओं में सैनिटरी पैड के इस्तेमाल की पहल कर रहे हैं। हमारे देश में आज भी 82 प्रतिशत महिलाएं सैनिटरी पैड का इस्तेमाल नहीं करतीं।’

हम समानता का सफर शुरू कर चुके हैं
ट्विंकल खन्ना से जब पूछा गया कि माहवारी और सैनिटरी पैड के अलावा महिलाओं से जुड़े और कौन से मुद्दे हैं, जिनपर बात की जानी चाहिए? इस पर ट्विंकल का कहना था, ‘हम औरतें समानता का सफर शुरू कर चुके हैं, मगर मुझे लगता है कि हम जो मूल्य अपनी बेटियों को देते हैं, वही मूल्य हमें अपने बेटों को भी देने होंगे।’
अब मां से इस बारे में बात कर पाऊं
फिल्म के निर्देशक आर बाल्की ने अपनी बचपन की यादों को साझा करते हुए कहा, ‘मैं उस वक्त बहुत छोटा था। मैं देखता कि महीने के कुछ दिन मेरी मां घर के बाहर बैठती थीं। उन्हें किचन में जाने की अनुमति नहीं थी और कुछ कपड़े रस्सी पर लटका करते थे। तब मैं इसका कारण समझ ही नहीं पाता था। मैं भी अपने गंदे कपड़े उसी रस्सी पर सुखा देता था, मगर आज मैं समझता हूं कि उस वक्त उनकी स्थिति क्या होगी? आज भी मैं उनसे इस विषय पर बात करने की हिम्मत नहीं कर पाया हूं। इस फिल्म के बाद शायद मैं उनसे इस बारे में बात कर पाऊं।’

गोरेपन की क्रीम नहीं, पैड्स की मांग करें
अक्षय कुमार ने इस विषय में जागरूकता फैलाने की अपनी रणनीति का खुलासा करते हुए कहा, ‘टॉइलट को हमने दूरदर्शन पर दिखाया था। हमारी सरकार ने इस पर ऐसा काम किया था कि पेन ड्राइव में फिल्म ‘टॉइलट एक प्रेम कथा’ लेकर गांव-गांव ले जाया गया ताकि लोग देखें और समझें। उसी पैमाने पर ही पैडमैन को भी लोगों तक पहुंचाया जाएगा। मेरा मकसद फिल्म से पैसा कमाना नहीं है। मेरा मकसद इसे लोगों तक पहुंचाना है, ताकि लोग जागरूक हों। मैं खुद यह काम सरकार की मदद लेकर करूंगा। वहीं इस बारे ट्विंकल का कहना था, ‘इसे लेकर कई सरकारी मंत्रालयों में भी बात हुई है और स्कूल के बच्चों और प्राध्यापकों को फिल्म दिखाने की भी बात हुई। कम से कम एक संवाद शुरू होगा जहां लड़कियां कहें कि हमें गोरा बनाने वाली क्रीम नहीं सैनिटरी पैड्स चाहिए।’

देखिए, अक्षय कुमार की ‘पैडमैन’ का पहला गाना रिलीज

लड़कियों को कई बार शर्मसार होना पड़ता है
ट्रेलर के एक दृश्य में अक्षय फिल्म में अपनी बहन को सैनिटरी पैड देने की पहल करते हैं। फिल्म की स्टारकास्ट से जब पूछा गया कि उनके घरों में माहवारी और सैनिटरी पैड्स को लेकर क्या रवैया था तो राधिका आप्टे बिना हिचकिचाए बोलीं, ‘मेरे परिवार में सभी डॉक्टर हैं, इसलिए मेरे घर में ऐसी रूढ़िवादी बातें नहीं हुईं। मुझे पहले से ही इस बारे में जानकारी दे दी गई थी, इसके बावजूद मुझे जब पहली बार माहवारी हुई थी, तो मैं बहुत रोई। असल में अपने इस शारीरिक बदलाव से मैं बहुत घबरा गई थी, लेकिन मेरी मां ने घर में एक बड़ी पार्टी दी थी, जहां मेरे रिश्तेदार, दोस्त यार सभी आए थे। मुझे मेरी पहली माहवारी पर तोहफे के रूप में घड़ी मिली थी और बहुत सारे उपहार भी।’ राधिका ने यह भी बताया कि यह सच है कि आज भी सैनेटरी पैड खरीदने को लेकर लड़कियों को कई बार शर्मसार होना पड़ता है। उनका कहना था, ‘शुरू में मुझे भी शर्म आती थी, मगर एक दिन मैंने तय किया कि मैं दूकान में जाऊंगी और बिना किसी हिचक के सैनिटरी पैड की मांग करूंगी और मैंने ऐसा किया भी। एक दिन चिल्लाकर दुकानदार से सैनिटरी पैड की मांग की और अपनी शर्म से निजात पाई।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.