विदर्भ पहली बार रणजी ट्रोफी के फाइनल में, रजनीश गुरबानी रहे जीत के हीरो

0
189

कोलकाता
विदर्भ ने कर्नाटक को 5 रन के छोटे से अंतर से हराते हुए रणजी ट्रोफी के फाइनल मुकाबले के लिए क्वालिफाई कर लिया है। फाइनल मुकाबला दिल्ली और विदर्भ के बीच इंदौर के होल्कर स्टेडियम में 29 दिसंबर से 2 जनवरी तक खेला जाएगा। 198 के मामूली टारगेट का पीछा करने उतरी कर्नाटक की टीम 59.1 ओवर में सभी विकेट खोकर 192 रन ही बना सकी। रजनीश गुरबानी ने घातक बोलिंग करते हुए 68 रन देकर 7 विकेट झटके। उनके अलावा सिद्देश नरेल को 2 और उमेश यादव को 1 विकेट मिला। चौथे दिन स्टंप्स तक कर्नाटक 7 विकेट खोकर 111 रन बनाकर सघर्ष कर रही थी। कर्नाटक के लिए सबसे बड़े सिरदर्द साबित हुए रजनीश गुरबानी। उन्होंने 5वें दिन बाकी के तीनों विकेट लेकर कर्नाटक को हारने पर मजबूर कर दिया। कप्तान विनय कुमार (36) रन बनाकर गुरबानी की बॉल पर अक्षय वाडकर के हाथों कैच आउट हुए, जबकि 33 रन बनाकर टीम को जीत की आस दिलाने वाले अभिमन्यू मिथुन को सरवटे के हाथों कैच कराया। श्रेयस गोपाल (24) रन बनाकर नॉट आउट रहे।इससे पहले विदर्भ ने अपनी पहली पारी में 61.4 ओवर में सभी विकेट खोकर 185 रन बनाए थे। इसके बाद कर्नाटक ने अपनी पहली पारी में 100.5 ओवर में सभी विकेट खोकर 301 रन बनाए। उस वक्त मुकाबला कर्नाटक के पक्ष में जाता दिख रहा था। लेकिन, विदर्भ ने अपनी दूसरी पारी में 313 रन बनाने के बाद कर्नाटक को 192 रनों पर ही समेट लिया।रजनीश ने दूसरी पारी में 7 विकेट लिए।अब तक का बेस्ट परफॉर्मेंस
इससे पहले विदर्भ की टीम दो बार सेमीफाइनल में पहुंची। 2002-03 और 2011-12 में सेमीफाइनल के लिए क्वॉलिफाई किया था, लेकिन टूर्नमेंट जीत नहीं सकी। इसके अलावा विदर्भ की टीम दो बार क्वॉर्टर फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही थी। पहली बार 1970-71 में इस टूर्नमेंट के क्वॉर्टर फाइनल में पहुंची थी, जबकि दूसरी बार 1995-96 में पहुंची।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here