राजद के बिहार बंद पर राजनीति गरमायी, जदयू-भाजपा ने कहा- लालू की नौटंकी

0
215

बालू और गिट्टी संकट के विरोध में राजद का आज बिहार बंद है, जिसे लेकर राजनीति तेज हो गयी है। बंद की वजह से लगे जाम में फंसकर दो मरीजों की मौत हो गई। रघुवंश सिंह ने बेतुका बयान दिया।

पटना । बालू और गिट्टी संकट के विरोध में राजद का आज बिहार बंद है। बिहार बंद को लेकर बिहार में राजनीति भी गरमा गई है। एक ओर जहां राजद ने बंद को सही करार देते हुए सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ हल्ला बोला है तो वहीं विपक्षी पार्टियों ने इसे लालू यादव की पुरानी नौटंकी करार दिया है।

भाजपा ने कहा-आमलोगों की संवेदना से राजद को मतलब नहीं

भाजपा नेता नंदकिशोर यादव ने कहा कि सड़कों पर आज पंद्रह साल पहले वाला नजारा दिखा। उन्होंने कहा कि इनलोगों को आम जनता की तकलीफों की परवाह नहीं, सड़क जाम से एंबुलेंस फंसे हैं, मरीज मर रहे और ये लोग नारेबाजी में व्यस्त हैं।

उन्होंने कहा कि राजद के सुप्रीमो ने कहा था कि एंबुलेंस को बंद से मुक्त रखा जाएगा, लेकिन गोपालगंज में हुए बड़े हादसे के बाद भी इन लोगों को आमजन के दर्द से मतलब नहीं, एंबुलेंस फंसी हैं, मरीज की मौत हो गई है।

जदयू ने कहा-मिलेगा कानूनी इंजेक्शन

राजद के बंद पर जदयू प्रवक्ता सह विधान पार्षद नीरज कुमार ने राजद को चेतावनी देते हुए कहा कि बंद करनेवाले लोग सचेत रहें और कानून का पालन करें, नहीं तो, उन्हें कानूनी इंजेक्शन देते देर नहीं लगेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार और प्रशासन अपनी जिम्मेदारी निभाना जानती है, वह अपना काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि बिहार में है कानून का राज है और इस तरह की नौटंकी करने वाले लोग सचेत रहें। बंद की वजह से राज्य में कई जगह भयंकर जाम लगा है और हाजीपुर से पटना आने के क्रम में एक महिला मरीज की रास्ते में ही मौत हो गई है, ये कैसा बंद है।

नीरज कुमार ने कहा कि राजद बिहार की छवि को खराब करने की कोशिश में लगा है, लेकिन किसी को भी बिहार की छवि से एेसा खिलवाड़ नहीं करने देंगे। लोगों को सोचना चाहिए कि अभी प्रकाशोत्सव पर्व का शुकराना समारोह चल रहा है जिसमें देश-विदेश से श्रद्धालु बिहार आ रहे हैं और उनकी परेशानी को समझने की बजाय राजद बिहार को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है।

राजद नेता रामचंद्र पूर्वे ने कहा-मजदूरों की हकमारी कर रही सरकार

वहीं राजद नेता रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि बिहार सरकार गरीब मजदूरों के पेट पर लात मार रही है, बालू और गिट्टी संकट का सीधा असर गरीब लोगों पर पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि आज के बंद में लालू यादव घर में ही रहकर बंद की जानकारी लेते रहेंगे और बंद की अगुवाई तेजस्वी यादव करेंगे।

उन्होंने कहा कि आज पूरा बिहार राज्य सरकार की गलत नीतियों के विरोध में सड़क पर उतरी है और अब नीतीश कुमार को नैेतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। जनता हमारे साथ है, अब बिहार की जनता इनकी पॉलिसी समझ चुकी है और जल्द ही गरदनियां देकर उन्हें कुर्सी से उतार फेंकेगी।

रमई राम ने कहा-बालू प्राकृतिक संपदा है इसपर कानून क्यों?

शरद यादव गुट के नेता रमई राम ने कहा कि बालू-गिट्टी प्राकृतिक संपदा है और इसे लेकर लोग राजनीति कर रहे हैं, इसके लिए कानून और बड़ी-बड़ी बातें की जा रही हैं, इनके खनन पर रोक लगाया जाना कहां तक उचित है? उन्होंने कहा नीतीश कुमार स्वार्थ की राजनीति करते हैं, जनता इसका जवाब देगी।

तेजस्वी ने कहा-बालू की गलत खनन नीति का करते रहेंगे विरोध

पटना में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव खुद सड़क पर उतर आये हैं, उनके साथ पार्टी के कार्यकर्ता और नेता शामिल हैं। उनके नेतृत्व में राजद कार्यकर्ता पटना के डाकबंगला चौराहे के लिये निकल पड़े हैं। तेजस्वी ने कहा कि पुरानी नियमावली से बालू की बिक्री की घोषणा आधी अधूरी है। सीएम नीतीश कुमार को माफी मांगनी चाहिए। गलत बालू नीति के कारण बिहार की जनता कई महीनों से परेशान हैं।

तेजप्रताप ने कहा-नीतीश ने नहीं दिया सर्टिफिकेट तो डाकबंगला जोत देंगे

वहीं तेजप्रताप यादव ने कहा कि गरीब-गुरबा के हक की लड़ाई हम लड़ रहे हैं और आज इसीलिए सड़कों पर उतरे हैं। हम नीतीश कुमार से मांग करते हैं कि वो बालू और खनन नीति के बारे में अपनी स्थिति स्पष्ट करें और फीता काटकर अपनी गलती को मान लें, नहीं तो हम ट्रैक्टर चलाना जानते हैं पटना के डाकबंगला चौराहा को ही जोत देंगे। उन्होंने कहा कि हम अॉलराउंडर हैं, कुछ भी कर सकते हैं।

रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा-मरने वाले तो मरते ही रहते हैं

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद और राजद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने बेतुका बयान देते हुए कहा कि हादसे तो होते ही रहते हैं, बंद की वजह से किसी की मौत नहीं हुई है। सरकार की गलत नीतियों के कारण जो मौतें होती हैं, उसपर कोई कुछ क्यों नहीं बोलता?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here