सुशील मोदी बोले- मुस्लिम महिलाओं की मुक्ति का साल रहा 2017

0
156

उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने कहा‍ कि वर्ष 2017 देश की मुस्लिम महिलाओं के लिए मुक्ति का वर्ष रहा। अब मुस्लिम महिलाओं को अकेली हज यात्रा की अनुमति मिली है।

पटना । उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट का प्रतिबंध लगाना, लोकसभा से इससे संबंधित बिल का पास होना और अकेली मुस्लिम महिला को हज यात्रा की अनुमति देने की वजह से गुजरा साल 2017 देश की मुस्लिम महिलाओं के लिए मुक्ति का वर्ष रहा। मोदी भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रधानमंत्री के ‘मन की बात’ कार्यक्रम का रेडियो पर प्रसारण सुनने के बाद प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे।

मोदी ने कहा अभी तक कोई मुस्लिम महिला किसी पुरुष के साथ ही हज यात्रा पर जा सकती थी मगर भारत सरकार की पहल पर इस साल 1300 मुस्लिम महिलाओं को अकेली हज यात्रा की अनुमति मिली है। इनमें बड़ी संख्या में बिहार सहित अन्य प्रदेशों की महिलाएं हैं। अकेली हज यात्रा के लिए आवेदन देने वाली मुस्लिम महिलाओं को लॉटरी की व्यवस्था से भी छूट दी गई है।

मोदी ने अपील की कि सभी धर्मों की महिलाएं अपने-अपने धर्मों की कुरीतियों को तोडऩे लिए आगे आएं तथा राजनीतिक दल एकमत होकर राज्यसभा में तीन तलाक के खिलाफ बिल को पारित करें।

उन्होंने कहा प्रधानमंत्री ने मन की बात कार्यक्रम में पहली बार मतदाता बने युवाओं पर जोर दिया। 21 वीं सदी के पहले वर्ष यानी 2000 में जन्म लेने वाले युवक और युवतियां 2018 में भारत के नए मतदाता होंगे। उन्होंने ऐसे सभी बालिग हुए युवा और युवतियों से अपील की कि वे मतदाता सूची में अपना नाम शामिल कराएं। भाजपा युवा मतदाताओं का जगह-जगह सम्मेलन आयोजित कर 2022 में पूरा किए जाने वालों संकल्पों और कैसा हो उनके सपनों का भारत, पर उनका सकारात्मक विचार जानेगी।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता के स्तर की उपलब्धियों के आकलन के लिए 4 जनवरी से 10 मार्च के बीच होने वाले ‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2018’ में बिहार के शहरों की भी हिस्सेदारी होगी और उम्मीद है कि पहले की तुलना में नगर निकायों का बेहतर प्रदर्शन होगा।

नववर्ष पर बिहारवासियों को बधाई

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने नववर्ष पर बिहारवासियों को हार्दिक बधाई दी हैं। मोदी पहली जनवरी, 2018 को 11 से 1 बजे दिन तक सरकारी आवास 1, पोलो रोड में पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं व आम लोगों से मिल कर नववर्ष की बधाई का आदान-प्रदान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here