उदास राबड़ी देवी ने कहा-नहीं जाना है तीन जनवरी को लालू जी से मिलने क्योंकि…

0
274

नए साल के पहले दिन अपने पति लालू प्रसाद यादव के बिना उदास राबड़ी देवी आगंतुकों से मिलीं और सबको नए साल की शुभकामनाएं दीं। राबड़ी ने कहा कि वे तीन तारीख को रांची नहीं जाएंगी।
पटना । नए वर्ष पर आमतौर पर गुलजार रहने वाले राबड़ी देवी के आवास पर सोमवार को मायूसी पसरी थी। सीबीआई अदालत से दोषी करार दिए जाने के बाद लालू प्रसाद के जेल में बंद रहने का असर पटना में साफ तौर पर दिख रहा था। लालू के बिना उदास राबड़ी देवी ने कहा कि हमारा प्यार लालू जी के साथ है वो जल्द ही बरी होकर घर आएंगे।पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनके पुत्र तेजप्रताप और तेजस्वी यादव समर्थकों से शुभकामनाएं स्वीकार कर रहे थे, किंतु चेहरे से खुशी गायब थी।
राबड़ी ने मीडिया से अपनी व्यथा का इजहार भी किया। उन्होंने कहा कि नए साल पर लालूजी की कमी सिर्फ परिवार को ही नहीं, बल्कि पूरे बिहार को महसूस हो रही है। राबड़ी ने सबको नववर्ष की शुभकामानाएं दीं।लालू को निर्दोष बताने के लिए राबड़ी ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र के बयान का उदाहरण दिया। कहा कि कोर्ट से बरी होने वाले कह रहे हैं कि लालू को साजिश के तहत फंसाया गया। राबड़ी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी निशाने पर लिया और उन्हें सत्ता का लोभी बताया।
लालू से मिलने नहीं जाएंगी राबड़ी राबड़ी ने बताया कि तीन जनवरी को वह राजद प्रमुख से मिलने रांची नहीं जाएंगी। उन्हें उम्मीद है कि लालू जेल से जल्द ही बाहर आ जाएंगे। राबड़ी ने कहा कि बिहार में घोटाले पर घोटाले हो रहे हैं किंतु कोई देखने वाला नहीं है। हमलोग लगातार कहते आ रहे हैं कि हमारे परिवार के साथ साजिश हो रही है। हमें गरीब-गुरबों के हक के लिए लडऩे की सजा मिल रही है।
राबड़ी ने न्याय प्रणाली पर भरोसा जताया और कहा कि न्याय जरूर मिलेगा। फैसले की कॉपी मिलते ही वह हाईकोर्ट में अपील करेंगी। अपमान का बदला लेगी जनता : तेजस्वी नेताओं और कार्यकर्ताओं से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव मिल रहे थे। तेजस्वी ने कहा कि लालू सबके दिल में हैं। जनता में आक्रोश है कि जिनके नाम पर वोट मिला वह जेल में और जिन्हें नहीं दिया वह सत्ता में हैं। जनता इस अपमान का बदला लेगी। भाजपा चोर दरवाजे से सत्ता में घुसी है।प्रधानमंत्री की करनी और कथनी में अंतर है। विकास की बातें होती हैं, किंतु दिखता सिर्फ विनाश है। अपने अगले कदम के बारे में तेजस्वी ने कहा कि तीन जनवरी के बाद ही कानूनी प्रक्रिया के बारे में सोचा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here