बिहार में पड़ रही हाड़ कंपाने वाली ठंड, रेल और विमान सेवाएं प्रभावित

0
192

पूरा बिहार हाड़ को कंपाने वाली ठंड की चपेट में है, जिससे आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। इसका असर रेल और विमान सेवा पर भी पड़ा है।
पटना । पूरा बिहार कड़ाके की ठंड की चपेट में है। प्रदेश में हाड़ कंपाने वाली ठंड पड़ रही है। पछुआ हवा के कारण कनकनी बढ़ गई है। सात वर्षों के बाद नववर्ष के पहले दिन पटना में रिकॉर्ड ठंड रही। पटना के साथ भागलपुर में भी कोल्ड डे रहा।सात जनवरी तक पड़ेगी कड़ाके की ठंड
सूबे में छपरा सबसे सर्द रहा, न्यूनतम तापमान गिरकर 7.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। पटना का न्यूनतम तापमान 8.1 और अधिकतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है। पूरा प्रदेश सात जनवरी तक कड़ाके की ठंड और कोहरे की चपेट में रहेगा। सोमवार को भी कोहरे के कारण रेल और विमान सेवाएं प्रभावित हुईं।मंगलवार को भी राजधानी सहित राज्यभर में घना कोहरा छाया रहा। मौसम विभाग के निदेशक शुभेंदु सेनगुप्त के अनुसार सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस कम तापमान होने पर कोल्ड डे बन जाता है।कोल्ड डे की चपेट में सीमांचल भागलपुर में अधिकतम तापमान गिरकर 17.6 डिग्री होने से कोल्ड डे रहा। न्यूनतम तापमान 7.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। गया का न्यूनतम तापमान 8.6 डिग्री और अधिकतम 14.2 डिग्री सेल्सियस रहा। पूर्णिया का न्यूनतम तापमान 10.4 डिग्री और अधिकतम 19.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को पूरे बिहार में न्यूनतम तापमान में औसत एक डिग्री सेल्सियस तक कमी आने की संभावना है। साप्ताहिक पूर्वानुमान के अनुसार 7 जनवरी तक पूरे प्रदेश में कड़ाके की ठंड सताएगी।मौसम विभाग के अनुसार पटना में 2011 से 2017 के बीच पहली जनवरी को न्यूनतम तापमान सबसे निचले स्तर पर पहुंचा है। इस मौसम में बीते सोमवार को न्यूनतम तापमान 8.7 डिग्री सेल्सियस पहुंचा था। एक सप्ताह के बाद फिर यह गिरकर 8.1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा।सर्दी का सितम, 16 घंटे विलंब से पहुंची राजधानी सर्दी के सितम से रेल सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हैं। नई दिल्ली- राजेंद्र नगर राजधानी एक्सप्रेस सोमवार को 16 घंटे विलंब से पटना पहुंची। घने कोहरे की चपेट में आने से यह विलंबित हो गई।ट्रेन मंगलवार को सुबह 5.55 बजे खुलेगी। ट्रेनों की लेटलतीफी से रेल यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। राजधानी के अलावा कई और ट्रेनें विलंब से चल रही हैं।नई दिल्ली से पटना होते हुए इस्लामपुर जाने वाली मगध एक्सप्रेस दस घंटे विलंब से पटना जंक्शन पहुंची। अब यह ट्रेन इस्लामपुर से चलकर मंगलवार की सुबह पांच बजे पटना जंक्शन पहुंचेगी और यहां से दिल्ली के लिए रवाना होगी। यही नहीं आनंद विहार जसीडीह स्पेशल ट्रेन 30 घंटे विलंब तो डिब्रूगढ़ दिल्ली-ब्रह्मपुत्रमेल 25 घंटे विलंब से चल रही है।नई दिल्ली राजेंद्र नगर संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस 13 घंटे विलंब से पटना पहुंची। पटना से ट्रेन को दूसरी रेक से समय पर रवाना कर दिया गया। कोटा- मथुरा एक्सप्रेस के यात्री काफी परेशान हैं। अधिकांश यात्री सुबह समय पर पटना जंक्शन आ गए थे, लेकिन ट्रेन रात 11.30 बजे खुली।आनंदविहार-भागलपुर विक्रमशिला एक्सप्रेस 19 घंटे, गांधीधाम-कटिहार कमला एक्सप्रेस 14 घंटे, दिल्ली-भागलपुर डिब्रूगढ़ ब्रह्मपुत्र मेल 10 घंटे, लोकमान्य तिलक-भागलपुर सुपरफास्ट एक्सप्रेस 10 घंटे विलंब से चल रही है। भभुआ-सासाराम-पटना इंटरसिटी प्रतिदिन की भांति विलंब से चलते हुए शाम पांच बजे पटना पहुंची।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here