ठंड से कांप रहा पूरा उत्तर भारत, कोहरे और गलन से यूपी में 54 की मौत

0
187

पूरा उत्तर भारत कंडकड़ाती ठंड की चमेट में हैं, गलन और सर्द हवाओं ने केवल उत्तर प्रदेश में 54 लोगों की जान ले ली।

नई दिल्ली । पूरा उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। कड़कड़ाती ठंड के चलते केवल उत्तर प्रदेश में 54 की जान चली गई। यह मौतें मंगलवार देर रात और बुधवार को हुईं। वहीं, हरियाणा में भी ठंड से एक व्यक्ति की मौत हो गई। सर्द हवाओं के बीच कोहरा भी लोगों की परेशानी का सबब बना हुआ है। कोहरे का सीधा असर रेल और हवाई यातायात पर पड़ा है। बुधवार को इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से 18 उड़ानें देर से रवाना हुईं। कोहरे की वजह से बुधवार को 27 ट्रेनें रद रहीं। लगभग 125 ट्रेनें अपने निर्धारित समय से देरी से दिल्ली के विभिन्न स्टेशनों पर पहुंचीं। 50 से ज्यादा ट्रेनों के प्रस्थान समय में बदलाव करना पड़ा। मौसम विभाग के मुताबिक सात जनवरी तक कोहरे और गलन भरी सर्दी से राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है। अगले दो-तीन दिनों तक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में सर्दी और बढ़ेगी।

– कोहरे और गलन से निजात नहीं, उप्र में ठंड से 54 की मौत

– हिमाचल के केलंग में अधिकतम तापमान माइनस 0.2 तो न्यूनतम माइनस 10.6 डिग्री

– लद्दाख के कारगिल में न्यूनतम तापमान माइनस 20.6 डिग्री सेल्सियस

– कांप रहे हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश के कई जिले

उत्तर प्रदेश में ‘काल’ बनी कड़ाके की सर्दी
कन्नौज में तीन, बांदा में एक, उरई में तीन, हमीरपुर और महोबा में ठंड से तीन-तीन लोगों की मौत हो गई। बाराबंकी में कड़ाके की ठंड में दो लोगों की मौत हो गई। वहीं बुधवार को बलिया में दो, जौनपुर में दो की मौत हुई। आजमगढ़ में एक, वाराणसी में तीन, कानपुर में एक की कंपकंपाती ठंड ने जान ले ली। उत्तर प्रदेश का सबसे ठंडा जिला सोनभद्र रहा, जहां न्यूनतम पारा 5.4 डिग्री दर्ज किया गया। ठंड के चलते इलाहाबाद, प्रतापगढ़ व कौशांबी जिले में भी नौ लोगों की मौत हो गई। लालगंज में 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला शीतलहर बर्दाश्त नहीं कर पाईं। कौशांबी में होमगार्ड व युवती समेत छह लोगों की मौत हो गई। इलाहाबाद में एक की मौत की सूचना है। बदायूं में कड़ाके की सर्दी से दो बच्चों की मौत हुई। रामपुर में भी सर्दी से एक की मौत हो गई। इसके अलावा कुछ और इलाकों में भी भीषण ठंड की चपेट में आने से दस अन्य की मौत हुई है।

न्यूनतम तापमान लगातार जमाव बिंदु से नीचे
लद्दाख के कारगिल में बुधवार को न्यूनतम तापमान माइनस 20.6 डिग्री सेल्सियस तक पहंच गया। मौजूदा सर्दियों का यह सबसे कम न्यूनतम तापमान भी है। वादी में न्यूनतम तापमान लगातार जमाव बिंदु से नीचे बना हुआ है। श्रीनगर में अधिकतम तापमान 11.1 डिग्री व न्यूनतम माइनस 3.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। पहलगाम में न्यूनतम तापमान माइनस 6.1, गुलमर्ग में माइनस 6.8 व लेह में न्यूनतम तापमान माइनस 14.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

उत्तराखंड में शीतलहर की चेतावनी
उत्तराखंड इस समय जबदस्त शीतलहर की चपेट में है। पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी की संभावना है। जबकि मैदानी क्षेत्रों में कोहरे के कारण जबर्दस्त ठंड की चेतावनी जारी की गई है। चारधाम बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री एवं यमुनोत्री समेत ऊंची चोटियों पर तीन दिन पूर्व हुए हिमपात के कारण निचला इलाका कड़ाके की ठंड की चपेट में है। बुधवार को लगातार तीसरे दिन अल्मोड़ा का न्यूनतम तापमान शून्य से तीन डिग्री नीचे (-3) डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

शीतलहर की चपेट में हिमाचल
बुधवार को हिमाचल प्रदेश में मौसम साफ रहा है लेकिन सर्द हवाओं से कंपकंपी छूटती रही। इससे प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में ज्यादा ठंड पड़ रही है। प्रदेश में सबसे कम तापमान केलंग में माइनस 10.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि यहां अधिकतम तापमान माइनस 0.2 डिग्री सेल्सियस रहा।

करनाल व सिरसा रहे सबसे ठंडे
हरियाणा में बुधवार को सुबह करीब 11 बजे तक धुंध छाई रही, जिस कारण सड़क और रेल यातायात प्रभावित हुआ। करनाल का अधिकतम तापमान सबसे कम 10 डिग्री और सिरसा का 11 डिग्री सेल्सियस रहा। न्यूनतम तापमान की बात करें तो चरखी दादरी का तापमान चार डिग्री सेल्सियस रहा। शीतलहर के कारण धूप में भी कंपकंपी छूटती रही। वहीं फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सर्दी के कारण एक व्यक्ति की मौत हो गई।

पंजाब में सबसे ठंडा आनंदपुर साहिब
बुधवार को पंजाब में आनंदपुर साहिब सबसे ठंडा रहा। यहां न्यूनतम तापमान 3.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि लुधियाना में न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here