सदमा: लालू के जेल से छूटने की देख रही थी राह,बडी़ बहन की मौत

0
210

रविवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की बड़ी बहन का निधन हो गया। उनकी उम्र 85 साल थी। वह लालू के जेल से छूटने का इंतजार कर रही थी। पिछले कई दिनों से लालू के रिहा होने के लिये पूजा पाठ भी कर रही थीं। इसी बीच आज उनका निधन हो गया। जानकारी के अनुसार, बड़ी बहन लालू प्रसाद के बहुत करीब थीं। जब लालू प्रसाद के बड़े भाई गोपालगंज से पटना आए और चपरासी की नौकरी लगी तो लालू की बड़ी बहन भी उनके साथ यहां पटना आ गई थीं।
जेल में लालू:सजा के बाद ये हाल हो गया था, ऐसे बिताई अपनी शाम-रात
लालू प्रसाद और उनकी बड़ी बहन का बचपन एक साथ बीता। पूर्व सीएम राबड़ी देवी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, विधायक तेजप्रताप यादव, लालू प्रसाद के बडे भाई बड़ी बहन के चपरासी क्वार्टर स्थित आवास पर पहुंचे। तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि फुआ के निधन की सूचना जेलर के माध्यम से लालू प्रसाद तक पहुंचा दी गयी है।
रांची जेल: जेल में संख्या 3 से है लालू यादव का खास रिश्ता, जानिए क्या
लालू की बड़ी बहन गंगोत्री देवी का ससुराल गोपालगंज के पंचदेवरी ब्लाक के कटेया थाना के चक्रपाणि गांव में था। 2010 में उनके पति जगधारी चौधरी का निधन हुआ था। गंगोत्री देवी के तीन लड़के हैं बैदनाथ यादव, रूदल यादव और बलिस्टर यादव। इनमे बड़े लड़के बैजनाथ यादव की 2016 में मौत हो चुकी है। जगधारी चौधरी और वैदनाथ यादव के निधन के समय लालू प्रसाद हेलीकॉप्टर से पंचदेवरी गए थे। पटना में उनका एक बेटा नौकरी कर रहा था। उन्ही के पास लालू की बहन रहती थी। गंगोत्री देवी लालू की इकलौती बहन थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here