रांची जेल में लालू के सेवादार, बिहार में राजनीति पहुंची चरम पर

0
448

राजद सुप्रीमो लालू यादव से पहले उनके दो सेवादार होटवार जेल पहुंच गए, इसके बाद बिहार में राजनीति चरम पर है। भाजपा जदयू ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है तो राजद आक्रामक है।
पटना । राजद सुप्रीमो लालू यादव के दो सेवादार उनसे पहले ही रांची के होटवार स्थित बिरसा मुंडा जेल पहुंच गए, जिसकी खबर मीडिया में आते ही हंगामा मचा हुआ है और इस मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। लालू जिस जेल में हैं उसी जेल में और उनकी ही सेल में इन सेवादारों के पहुंचने से लालू के लिए मुश्किल बढ़ सकती है।
इस मामले पर बिहार की राजनीति गरमा गई है, एक ओर जहां राजद ने इस बात से साफ इंकार किया है कि वो दोनों सेवादार हैं तो दूसरी ओर उनका कहना है कि राजद का एक-एक कार्यकर्ता लालू जी के साथ जेल जाने को तैयार है।
शक्ति सिंह ने कहा-वो सेवादार नहीं, राजद के कार्यकर्ता हैं
राजद नेता शक्ति सिंह यादव ने दैनिक डॉट काम से खास बातचीत में कहा है कि लक्ष्मण महतो और मदन यादव सेवादार नहीं राजद के कार्यकर्ता हैं। वो जेल में कैसे पहुंचे हैं, ये तो पुलिस जाने। लालू यादव ने किसी को जेल में बुलाया नहीं।
जदयू नेता ने कहा-लालू यादव सामंती नेता हैं, कड़ी सजा मिले
उनके बयान पर जदयू नेता नीरज कुमार ने जागरण डॉट काम से खास बातचीत में कहा कि लालू यादव जैसे सामंती नेता जो सिर्फ खुद के लिए सोचते हैं और ढोंग करते हैं कि गरीबों के मसीहा हैं। लालू यादव जेल में गए तो उससे पहले ही उनके दो सेवादार झूठी एफआइआर दर्ज करवाकर जेल पहुंच गए। दोनों लालू की सेवा में लगे हैं, ये सामंती विचारधारा का नमूना है।
जदयू नेता ने कहा कि लालू यादव को वीआइपी नहीं, सामान्य कैदी की तरह जेल में रखना चाहिए। उन्हें कैदियों के कपड़े पहनाया जाना चाहिए। उन्हें आम कैदियों की तरह ही सजा मिलनी चाहिए और उनके लिए जो सजा तय की गई है उनसे वो काम करवाना चाहिए।
राजद विधायक ने कहा-लालू के लिए जाएंगे जेल
वहीं इस मामले में राजद के विधायक हरिशंकर यादव ने कहा है कि लालू जी हमारे नेता नहीं, मसीहा हैं हमारे भाग्यविधाता हैं, उनके लिए राजद का एक-एक कार्यकर्ता जेल जाएगा। कितनों की जांच की जाएगी।
सुशील मोदी ने कहा-लालू यादव ने अपनी गरीबी दूर की
इस मामले पर भाजपा नेता सह उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि यह कितना दुर्भाग्यपूर्ण है कि सेवा करवाने के लिए लालू ने अपने सेवादारों को भी जेल में बंद करवा दिया है। अपनी गरीबी तो उन्होंने दूर कर ली लेकिन गरीबों की गरीबी को दूर नहीं किया।
मंगल पांडे ने कहा-ये कोर्ट का मामला है
भाजपा नेता मंगल पांडे ने कहा कि ये कोर्ट का मामला है, न्यायालय को इस बारे में हस्तक्षेप करना चाहिए और इस मामले को देखना चाहिए। सेवादारों को दूसरे जेल में शिफ्ट किया जाना चाहिए। उनसे जबर्दस्ती सेवा करवाना कानूम सम्मत नहीं है। किसी अ्भियुक्त की सेवा के लिए अभियुक्त जेल पहुंच गए, इसपर कोर्ट को निर्णय लेना चाहिए।
शिवानंद तिवारी ने कहा-जांच की रिपोर्ट आ ही रही, हो जाएगा खुलासा
राजद नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि जेल में तो लोग दो ही तरीके से जाते हैं, अब इस बारे में मेरे पास एेसी जानकारी तो नहीं कि वो दोनों किस मामले में जेल गए हैं। अब न्यायालय का ये मामला है कि क्या करना है? जो भी न्यायसंगत होगा, वही होगा।
लालू के सेवादारों के जेल में पहुंचने के मामले पर बिहार में राजनीति तेज हो गई है। इसके बाद लालू की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। राजद ने इसके बाद आक्रामक तेवर दिखाया है तो वहीं जदयू ने इसपर कड़ी प्रतिक्रिया दी है तो वहीं भाजपा ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here