बिहार: रिकार्डतोड़ ठंड में अब तक 70 की मौत, मकर संक्रांति तक राहत नहीं

0
143

पूरे बिहार में पड़ रही कड़ाके की ठंड की वजह से अबतक 70 लोगों की मौत हो चुकी है। मौसम विभाग के अनुसार ठंड का कहर अगले 15 जनवरी तक जारी रहेगा।
पटना । उत्तर-पूर्व बिहार, कोसी और सीमांचल सहित पूरे प्रदेश में रिकार्डतोड़ कड़ाके की ठंड जारी है। मौसम विभाग के आंकड़े के अनुसार उत्तर बिहार में गत 15 वर्षो में जनवरी माह में इतनी ठंड नहीं पड़ी। 15 वर्षो में यह पहली बार है कि न्यूनतम पारा 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे पहुंच गया है। ठंड के इस मौसम में अब तक 70 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।
पूर्वी बिहार के कई जिले मंगलवार को कोल्ड डे की चपेट में रहे। मौसम विभाग के अनुसार 13 जनवरी तक पूरे बिहार में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहने की संभावना है। मकर संक्रांति तक पूरे प्रदेश में कोहरा छाए रहने का अनुमान है।
मंगलवार को मुजफ्फरपुर, भागलपुर और सुपौल में कोल्ड डे की स्थिति रही। दरभंगा और समस्तीपुर में भी न्यूनतम पारा चार डिग्री सेल्सियस के करीब रहा। उत्तर-पूर्व के अधिकांश जिलों में न्यूनतम तापमान 4-8 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा।
कुछ जगहों पर धूप निकलने से राहत मिली मगर पछुआ हवा के कारण कनकनी बनी रही। मौसम विभाग के अनुसार अभी तीन दिनों तक कड़ाके की ठंड से राहत के आसार नहीं है।
मंगलवार को भी ठंड से जमुई, बांका व खगडिय़ा में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। इस प्रकार पूर्व बिहार, कोसी और सीमांचल में यह आंकड़ा 60 तक पहुंच चुका है। वहीं उत्तर बिहार में ठंड से करीब दो दर्जन लोगों के मरने की मरने की खबर है।
स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने इसकी पुष्टि की है। मृतकों में पश्चिम चंपारण की एक विधवा के अलावा पूर्वी चंपारण के चार और मुजफ्फरपुर जिले के पांच लोग शामिल हैं।
समस्तीपुर जिले के पूसा स्थित डॉ. राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विवि के मौसम विभाग के मुताबिक, अगले तीन दिनों तक शीतलहर जारी रहेगी। इस दौरान सुबह में हल्का से मध्यम कुहासा छा सकता है। मैदानी भागों तथा तराई के कई स्थानों में घना कुहासा छाए रहने की संभावना है।
हवा में अधिक नमी तथा न्यूनतम तापमान में भारी गिरावट के कारण कई स्थानों में फसलों पर पाला पडऩे की आशंका है। औसतन 7 से 9 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से पछिया हवा चलने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here