जेल से निकले लालू के सेवादार और हो गए गायब, तलाश जारी

0
77

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की सेवा के लिए उनके जेल में पहुंचने से पहले झूठी एफआइआर दर्ज करा पहुंच गए थे। जेल से निकलने के बाद दोनों सेवादार गायब है।
पटना । राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की होटवार जेल में सेवा करने उनके जेल जाने से पहले पहुंचे सेवादार जेल से बाहर निकले और गायब हैं। पुलिस अब उनकी तलाश में लगी है। उनके साथ ही उन सेवादारों पर एफआइआर कराने वाले शख्स सुमित की भी पुलिस तलाश कर रही है।
पुलिस की जांच में पता चला है कि दोनों सेवादार फर्जी एफआइआर दर्ज करा के 23 दिसंबर से पहले जेल पहुंच गए थे। पता चला कि दोनों सेवादार कोर्ट के आदेश से जेल में पहुंचे थे। इस मामले में पुलिस पर भी संदेह बढ़ता जा रहा है। किस तरह झूठी एफआइआर दायर की गई ना ही किसी तरह की सेवादारों की जांच की गई और कैसे वो जेल के भीतर पहुंच गए, ये सवाल भी है।
लालू प्रसाद की जेल में सेवा करने के लिए जान-बूझकर अपराधी बन जाना और जेल पहुंच जाना इसका खुलासा होते ही राजनीतिक महकमे में बवाल मच गया। जिसके बाद पुलिस एक्शन में आई और मामले की जांच की गई तो मामला सही पााया गया। जिसके बाद आज ये दोनों सेवादार जेल से निकले और गायब हो गए।
सेवादारों के जेल से बाहर निकलने और गायब हो जाने के बाद जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा है कि अब लालू किससे मालिश करवाएंगे? लालू के फर्जीवाड़े का अब पर्दाफाश हो गया है। पहले तो लालू ने गरीब लोगों का जमीन अपने नाम करवा लिया और अब फर्जीवाड़े से सेवादारों को मालिश करवाने के लिए जेल बुला लिया और जब खुलासा हुआ तो ये सब किया।
लालू के जेल जाने से पहले पहुंच गए थे सेवादार
लालू यादव के जेल जाने से पहले उनके दो सेवक एक मामूली मारपीट के मामले में रांची के बिरसा मुंडा जेल पहुंच गए थे। इस मामले का खुलासा होते बिहार की राजनीति गरमा गई है। जदयू ने लालू प्रसाद और उनके परिवार पर दो निर्दोष लोगों को अपराध में धकेलने का आरोप लगाया तो वहीं राजद ने इसपर सफाई दी।
मदन रांची का निवासी है और डेयरी का कम करता है। पिछली बार भी रांची जेल में जब लालू यादव बंद थे तब वो ऐसे ही किसी मामले में जेल पहुंच गया था और वहीं लक्ष्मण लालू का ख़ास सेवक है जो उनके खाने से लेकर दवा तक का पूरा ध्यान रखता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here