पंचकूला हिंसा मामले में कोर्ट में पेश की गई हनीप्रीत, चार्जशीट पर होगी बहस

0
150

अम्बाला/पंचकूला। यौन शोषण मामले में सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत समेत 15 आरोपियों की गुरुवार को पंचकूला कोर्ट में सुनवाई हो रही है। इन सभी आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने पंचकूला हिंसा मामले में चार्जशीट पेश कर रखी है। इसी चार्जशीट पर कोर्ट में बहस होनी है। इसी के चलते सुबह 9 बजे पुलिस हनीप्रीत को अम्बाला जेल से कड़ी सुरक्षा में पंचकूला कोर्ट लेकर पहुंची है। पंचकूला सेशन जज नीरजा कुलवंत कल्सन की कोर्ट में इन्हें पेश किया जा रहा है। आरोप हो सकते हैं तय…
– हरियाणा पुलिस द्वारा कोर्ट में पेश की गई चार्टशीट पर बचाव पक्ष के वकील बहस करेंगे। बचाव पक्ष के वकील यदि चार्जशीट में लगाए गए आरोपों का विरोध नहीं करते तो इस मामले में आरोप तय हो सकते हैं।
– बता दें कि हनीप्रीत साध्वी यौन शोषण मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद पंचकूला में हिंसा भड़काने और देशद्रोह मामले की आरोपी है।
– हनीप्रीत समेत 15 लोगों के खिलाफ एसआईटी ने 28 नवंबर को पंचकूला कोर्ट में 1200 पेज की चार्जशीट दाखिल की थी। इसमें हनीप्रीत के साथ-साथ चमकौर और गुरमीत सिंह के पीए राकेश कुमार को मुख्य आरोपी बनाया गया है।
– जबकि इसी चालान में सुरेंद्र धीमान, गुरमीत, शरणजीत कौर, दिलावर सिंह, गोविंद, प्रदीप कुमार, गुरमीत कुमार, दान सिंह, सुखदीप कौर, सीपी अरोड़ा, खैराती लाल के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया गया है।
– वहीं 9 दिनों के रिमांड में हनीप्रीत ने दंगों में उसका हाथ होने की बात कबूली थी। इसके अलावा पुलिस को हनीप्रीत से मोबाइल ,लैपटॉप, डायरी और कई अहम दस्तावेज मिले थे।
– हरियाणा पुलिस का दावा है कि पंचकूला हिंसा की साजिश डेरा सच्चा सौदा के हेडक्वॉर्टर में एक सीक्रेट मीटिंग में रची गई थी।
पकड़े जाने के बाद से अम्बाला जेल में बंद है हनीप्रीत
– पंचकूला हिंसा के बाद से पुलिस हनीप्रीत को ढूंढ रही थी लेकिन वह 38 दिनों तक पुलिस के हाथ नहीं आई।
– पुलिस ने दावा किया था कि उन्होंने हनीप्रीत को पंजाब से पकड़ा है। इसके बाद से वह अम्बाला जेल में बंद है।
अब विपासना इंसां भी हुई फरार
– पंचकूला एसआईटी ने अब डेरे की बड़ी राजदार विपासना इंसां के खिलाफ भी अरेस्ट वारंट इशू करवाया है। वह भी डेरे में नहीं है। विपासना भी फरार चल रही है।
– वहीं पुलिस अभी तक आदित्य इंसां को भी पकड़ पाने में कामयाब नहीं हो सकी है। आदित्य पर पुलिस ने कोर्ट के दबाव के बाद 2 लाख रुपये इनाम भी घोषित कर रखा है।
अनुयायियों को नपुंसक बनाने का आरोपी डॉक्टर गिरफ्तार
– पंचकूला एसआईटी ने इनपुट के आधार पर बीते रविवार की शाम करीब 4.30 बजे सिरसा डेरे में छापा मारा था।
– तलाशी के दौरान डॉक्टर महिंदर इंसा को गिरफ्तार कर लिया गया। वह एक कमरे में छिपा था। उस पर बाबा के अनुयायियों को नपुंसक बनाने और देशद्रोह का आरोप है। इस दौरान विपासना इंसां वहां नहीं मिली।
– एसीपी मुकेश मल्होत्रा की अगुआई में एसआईटी ने महिंदर इंसां को पंचकूला कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने उसे तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।
– वहीं पुलिस ने बुधवार को राम रहीम के करीबी और डेरा के अनुयायी भंगीदास कस्तूर इंसा को सिरसा से गिरफ्तार किया।
क्या हुआ था पंचकूला हिंसा में?
– दो साध्वियों से रेप के मामले में 25 अगस्त को राम रहीम को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने दोषी करार दिया था। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा के फॉलोअर्स ने हरियाणा और पंजाब समेत कई राज्यों में हिंसा शुरू कर दी थी।
– पंचकूला में फॉलोअर्स ने गाड़ियां फूंकी, पेट्रोल पंप जलाया, सरकारी और प्राइवेट दफ्तरों में आगजनी की। सिरसा का भी यही हाल था। हिंसा में 41 लोगों की जान गई, इनमें 36 की जान केवल पंचकूला में ही गई थी।
रेप केस में राम रहीम को कितनी सजा, कोर्ट ने क्या कहा था?
– 28 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा चीफ राम रहीम को दो साध्वियों से रेप के जुर्म में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने 10-10 साल की सजा सुनाई थी।
– अपने 9 पेज के ऑर्डर में जज ने कहा, “जिसने अपनी साध्वियों को ही नहीं छोड़ा और जो जंगली जानवर की तरह पेश आया, वह किसी रहम का हकदार नहीं है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here