पहली बार किया गया आधार सुरक्षा से जुड़ा ये बड़ा बदलाव, ऐसे उठाइए फायदा

0
204

आधार नंबर लीक होने की खबर के बाद विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) सुरक्षा चक्र को और मजबूत करने में जुट गया है। यूआईडीएआई ने आधार नंबर की सुरक्षा के लिए वर्चुअल आईडी लांच करने की घोषणा की है। यह सीमित अवधि के लिए होगा। आधार कार्ड धारक पहचान की पुष्टि के लिए नंबर के बजाय इसका प्रयोग कर सकेंगे। यूआईडीएआई ने बुधवार (10 जनवरी) को बताया कि यह ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) की तर्ज पर काम करेगा। इसके अलावा प्राइवेसी और सुरक्षा चिंताओं को दूर करने के लिए यूआईडीएआई ने लिमिटेड केवाईसी और यूआईडी टोकन को भी अमल में लाने का फैसला किया है। इससे सरकारी या निजी प्रतिष्‍ठानों को आधार नंबर देने से बचा जा सकेगा। नई व्‍यवस्‍था 1 मार्च से प्रभावी होगी। इसके तहत आधार धारक और पहचान की पुष्टि करने वाली एजेंसी के बीच सुरक्षा के दो चक्र (फायरवॉल) होंगे। पांच सौ रुपये में आधार नंबर हासिल करने की खबर मीडिया में आने के बाद आधार नंबर की सुरक्षा को लेकर गंभीर सवाल उठने लगे थे। इसके बाद यूआईडीएआई को अतिरिक्‍त सावधानी बरतने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here