CM नीतीश बोले- हम राज नहीं सेवा करते हैं, किसी को बुरा लगने की चिंता नहीं

0
10

विकास समीक्षा यात्रा के दौरान सीएम नीतीश ने कहा कि हम राज नहीं सेवा करते हैं। किसी को बुरा लगने की चिंता नहीं है। यदि कहीं असंतोष का भाव है, तो उसकी जांच कराई जाएगी।
बक्सर । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को समीक्षा यात्रा पर बक्सर जिले पहुंचे। यहां उन्होंने कहा कि अगर विकास को लेकर कोई असंतोष का भाव है, तो उसकी जांच कराई जाएगी। हम लोगों की असंतुष्टि के कारण जानेंगे। समग्र विकास के साथ सामाजिक सुधार उनका मिशन है। लोग संकल्प लें कि जिस शादी में दहेज का लेनदेन हो उसमें नहीं जाएंगे।
मुख्यमंत्री ने डुमरांव अनुमंडल के हरियाणा फार्म मैदान और कैमूर जिले के मोहनियां प्रखंड के अहिनौरा गांव में आयोजित जनसभाओं में कहा कि पटना में बैठकर सरकार चलाने में वे विश्वास नहीं रखते। लोगों के बीच जाकर उनकी समस्याओं को समझते हैं और कोई कठिनाई हो रही हो तो उसे दूर करते हैं। वे राज नहीं सेवा करते हैं। उनका सेवा कार्य किसे बुरा लगता है और कौन किसे भड़काता है इससे उन्हें फर्क नहीं पड़ता।
उन्होंने बक्सर के नंदन गांव और कैमूर के अहिनौरा गांव का दौरा कर सात निश्चय कार्यक्रम के तहत वहां हुए कार्यों को भी देखा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी से कुछ लोगों को तकलीफ हो रही है। उन्हें गांव-गांव में आया समरसता का भाव पच नहीं रहा है। ऐसे लोगों को वह साफ कह देना चाहते हैं कि शराबबंदी से कोई समझौता नहीं होगा। कानून का सख्ती से पालन करने के लिए आइजी (मद्य निषेध) का नया पद सृजित किया गया है। हर गांव में बिजली के पोल पर नंबर लिखे होंगे जिस पर ग्रामीण शराब पीने वाले और बेचने वाले की सूचना दे सकेंगे। फोन पर सूचना देने के एक घंटे के भीतर पुलिस पहुंच जाएगी।
मुख्यमंत्री ने पुराने दिन याद दिलाते हुए कहा कि 2004 को याद कीजिए और आज कृषि के क्षेत्र में बदलाव देखिए। इस क्रम में केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान का आभार जताते हुए धान में नमी की न्यूनतम सीमा 19 प्रतिशत करने के लिए धन्यवाद दिया। बक्सर में लगभग 272 करोड़ की 168 योजनाओं का शिलान्यास करते हुए उन्होंने कहा कि डुमरांव में इंजीनियरिंग कॉलेज का निर्माण केवल मेरा निर्णय नहीं बल्कि इसका बनना सुनिश्चित करना है।
कैमूर का अहिनौरा गांव ऐतिहासिक, टीलों की कराई जाएगी जांच
मुख्यमंत्री ने अहिनौरा गांव के अगल- बगल के छोटे-बड़े टीलों को देखा और कहा कि ये पुराने और ऐतिहासिक हैं। इनकी पुरातत्व विभाग द्वारा जांच कराई जाएगी। कार्यक्रम के दौरान ही उन्होंने दहेज मुक्त शादी करने वाले जोड़े को आर्शीवाद दिया। यहां 228 करोड़ की 63 योजनाओं का उद्घाटन किया।
सभा को कृषि मंत्री प्रेम कुमार, बक्सर के प्रभारी मंत्री कृष्ण कुमार ऋषिदेव, परिवहन मंत्री संतोष निराला, विधायक ददन पहलवान, विधान पार्षद संजीव श्याम, विधान पार्षद राधाचरण साह ने संबोधित किया। मौके पर मुख्य सचिव अंजनी कुमार, डीजीपी पीके ठाकुर प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here