त्रिपुरा में 18 फरवरी, मेघालय-नागालैंड में 27 फरवरी को वोटिंग, नतीजे 3 मार्च को

0
198

नई दिल्ली: त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड की विधानसभा के चुनावों की तारीखों का एलान हो गया है. त्रिपुरा में जहां 18 फरवरी को वोट डाले जाएंगे, वहीं मेघालय और नागालैंड में 27 फरवरी को मतदान होगा. तीनों विधानसभा के वोटों की गिनती 3 मार्च को होगी. चुनाव आयोग के इस एलान के साथ ही चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है. तीन राज्यों सहित केंद्र सरकार पर आचार संहिता लाहू हो गई.
चुनाव तारीखों की शेड्यूल के मुताबिक नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तारीख त्रिपुरा में 31 जनवरी और नगालैंड और मेघालय में सात फरवरी होगी.
इन तीनों ही राज्यों में विधानसभा की 60-60 सीटें हैं. तीनों विधानसभाओं का कार्यकाल क्रमश: 6
मार्च, 13 मार्च और 14 मार्च को समाप्त हो रहा है.
नागालैंड में 27 फरवरी को होंगे विधानसभा चुनाव, तीन मार्च को आएंगे नतीजे
मेघालय में 27 फरवरी को होंगे विधानसभा चुनाव, तीन मार्च को आएंगे नतीजे
त्रिपुरा में 18 फरवरी को होंगे विधानसभा चुनाव, तीन मार्च को आएंगे नतीजे
चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान करते हुए कहा कि इन चुनावों में भी वीवीजीएटी का इस्तेमाल किया जाएगा. ईवीएम में गड़बड़ी के आरोपों पर केंद्रीय चुनाव आयोग ने आंकड़ा पेश किया. उन्होंने कहा कि गोवा, हिमाचल और गुजरात के चुनावों के बाद ईवीएम और विविपैट के नतीजों/वोटर स्लिप का मिलान हुआ, कहीं कोई गड़बड़ी नही पाई गई, यानी 100% मिलान हुआ.
खास बात ये है कि छोटा प्रदेश होने के कारण चुनाव आयोग ने उम्मीदवारों के लिए चुनावी खर्च की राशि 20 लाख रुपए तय की है.
मेघालय का समीकरण
मेघालय में विधानसभा की 60 सीटें हैं. वर्तमान में यहां पिछले दो बार से कांग्रेस की सरकार है. राज्य
में मुख्य लड़ाई कांग्रेस, बीजेपी और एनपीपी के बीच है. बता दें कि साल 2013 के चुनावों में यहां बीजेपी का खाता भी नहीं खुला था. उस चुनाव में 13 निर्दलय उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की थी.
त्रिपुरा का समीकरण
त्रिपुरा में विधानसभा की 60 सीटें हैं. यहां अभी लेफ्ट की सरकार है. साल 1998 से राज्य में माणिक सरकार मुख्यमंत्री हैं. माणिक सरकार देश के सबसे कम पैसे लेने वाले मुख्यमंत्री हैं. वह अपना कुछ वेतन पार्टी को भी देते हैं.
नागालैंड का समीकरण
नागालैंड में विधानसभा की 60 सीटें हैं. यहां साल 2003 से नागालैंड पीपुल्स फ्रंट की सरकार है. एनपीएफ, एनडीए की सहयोगी पार्टी है. यहां एनपीएफ-बीजेपी की लड़ाई कांग्रेस से है. टी आर जेलियांग राज्य के मुख्यमंत्री हैं. पिछले विधानसभा चुनावों में एनपीएफ को 60 में से 38 सीटें मिली थी.
इस साल कहां-कहां होंगे विधानसभा चुनाव
2018 में जिन बड़े राज्यों में चुनाव होने हैं उनमें कर्नाटक, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ शामिल हैं. इसके अलावा मिजोरम भी विधानसभा चुनाव होंगे. आठ राज्यों में से चार यानी राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और नागालैंड में अभी एनडीए की सरकार है. जबकि कांग्रेस के पास सिर्फ तीन राज्य कर्नाटक, मिजोरम और मेघालय हैं. देश में अब सिर्फ पांच राज्यों में ही कांग्रेस बची है. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाला एनडीए 19 राज्यों पर कब्जा कर चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here