जब सारी कड़वाहट भुलाकर केजरीवाल के डिनर में शामिल हुए जेटली, दोनों के चेहरे खिले

0
178

दिल्ली में गुरुवार की शाम को आयोजित यह डिनर बेहद खास साबित हुआ. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिए जाने वाले इस डिनर में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली पहुंचे. दोनों पास में बैठे, उनके बीच बातचीत हुई और दोनों के चेहरों पर मुस्कराहट दिख रही थी. इस दुर्लभ संयोग को देखकर डिनर में शामिल अतिथि भी काफी अच्छा महसूस कर रहे थे.
असल में गुरुवार को दिल्ली में जीएसटी कौंसिल की बैठक थी, जो शाम देर तक चली, क्योंकि एजेंडे में कई सारी चीजें थीं. कई चीजों पर तो इस बार निर्णय ही नहीं हो पाया. कौंसिल के सदस्यों के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने डिनर आयोजित किया था.
जीएसटी की बैठक खत्म होने के बाद जब राज्यों के वित्त मंत्री और वरिष्ठ अधिकारी आयोजन स्थल विज्ञान भवन के हॉल से बाहर आ रहे, तो सात घंटे से खबरों के इंतजार में लगे पत्रकारों ने उन्हें घेर लिया. ज्यादातर राज्यों के वित्त मंत्री पत्रकारों को बाइट देने में लग गए. लेकिन दिल्ली के डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने पत्रकारों से बात करने से मना कर दिया. वे थोड़े अधीर दिख रहे थे. उन्होंने सभी राज्यों के वित्त मंत्रियों के कान में कुछ बात कही और उसके बाद अपने अधिकारियों-कर्मचारियों को कुछ निर्देश दिए.
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जीएसटी कौंसिल की बैठक में आए सभी सदस्यों के लिए दिल्ली के मशहूर फाइव सेंसेज गार्डन में डिनर आयोजित किया था. केजरीवाल सीधे डिनर वेन्यू पर पहुंच गए थे और उन्होंने मनीष सिसोदिया को जिम्मेदारी दी थी कि वे जीएसटी कौंसिल के सदस्यों को लेकर वहां पहुंचें.
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली घर जाने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन सिसोदिया ने उनसे भी डिनर में चलने का अनुरोध किया. जेटली ने अपने जूनियर मंत्री शिव प्रताप शुक्ला से पूछा कि क्या उन्होंने गार्डन (डिनर आयोजन स्थल) देखा है? शुक्ला ने कहा नहीं, लेकिन उन्होंने कहा कि वे भी डिनर में चलने को तैयार हैं. इसके बाद वित्त मंत्री केजरीवाल के डिनर में पहुंचे. सभी लोगों को यह देखकर काफी अच्छा लगा, क्योंकि मानहानि मामले में दोनों नेताओं के बीच बनी कड़वाहट किसी से छिपी नहीं है.
इस डिनर के बारे में जीएसटी कौंसिल और वित्त मंत्री के मीडिया प्रभारियों की तरफ से कोई जानकारी शेयर नहीं की गई, लेकिन आम आदमी पार्टी के ट्विटर हैंडल पर इसकी कई अच्छी तस्वीरें साझा की गई हैं. इन तस्वीरों में दिख रहा है कि जेटली और केजरीवाल बिल्कुल पास में बैठे हैं. ठंड से बचने के लिए अरुण जेटली एक सुनहरे रंग की शॉल ओढ़कर पहुंचे थे. उन्होंने केजरीवाल से बात तो बहुत कम की, लेकिन दोनों के चेहरे पर मुस्कराहट दिख रही थी.
डिनर आयोजन स्थल फाइव सेंसेज गार्डन महरौली के पास सइद-उल-अजायब इलाके में करीब 20 एकड़ में बना हुआ है. इसे राजधानी के बेहतरीन हरिटेज और एक्टिविटी जोन में से माना जाता है. डिनर में केजरीवाल के साथ डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के अलावा दिल्ली के खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन भी थे. दिल्ली सरकार ने सभी अतिथियों को आयोजन स्थल तक पहुंचाने के लिए 8 लग्जरी बसों की भी व्यवस्था की थी. कई अतिथियों ने तो ट्रैफिक जाम और देरी से बचने के लिए मेट्रो, फिर कैब का भी सहारा लिया.
गौरतलब है कि अरुण जेटली ने केजरीवाल के अलावा के आशुतोष, कुमार विश्वास, संजय सिंह, राघव चड्ढा और दीपक बाजपेयी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा किया है. AAP के नेताओं ने DDCA में अरुण जेटली के अध्यक्ष रहने के दौरान भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था, जिस पर अरुण जेटली ने 10 करोड़ रुपये की मानहानि का दावा किया है. मानहानि के मुकदमे की वजह से दोनों नेताओं में भले ही कितनी कड़वाहट हो, लेकिन अच्छी बात यह है कि दोनों ने यह भूलकर एक अच्छा जेस्चर दिखाया और डिनर का आनंद लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here