25 लाख रुपये के लिए प्रॉपटी डीलर के बेटे की अपहरण के बाद हत्या, मची सनसनी

0
207

कल दिनदहाड़े पटना के कदमकुंआ थानाक्षेत्र से 25 लाख की फिरौती के लिए प्रॉपर्टी डीलर के बेटे का अपहरण हुआ था। आज सुबह गिरफ्तार किए गए अपहर्ता ने बताया कि बच्चे की हत्या हो गई है।
पटना । राजधानी के अगमकुआं थाना क्षेत्र में गुरुवार को दिनदहाड़े प्रॉपर्टी डीलर के बेटे का अपहरण कर लिया गया और आज अहले सुबह पुलिस ने एक अपहर्ता को गिरफ्तार कर लिया है। उसने बताया है कि अपहरण के बाद पच्चीस लाख की फिरौती तय समय में नहीं देने पर बच्चे की हत्या कर दी गई है।
इस सूचना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। कल से ही पुलिस अपहृत बच्चे की तलाश के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही थी और अाज गिरफ्तार अपहर्ता ने यह कुबूल कर पुलिस की परेशानी बढ़ा दी है लेकिन अबतक मृतक बच्चे का शव बरामद नहीं हुआ है। कल दिनदहाड़े हुए किशोर के अपहरण से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। कुम्हरार चक निवासी प्रॉपटी डीलर सुधीर कुमार के बेटे रौनक कुमार का स्कूल जाने के क्रम में अपहरण कर लिया गया और फोन पर 25 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई। रौनक एक निजी स्कूल में नौवीं का छात्र है। पूरे परिवार में कोहराम मचा हुआ है।
एसएसपी मनु महाराज का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है, जिसके बाद सिटी एसपी विशाल शर्मा के नेतृत्व में टीम गठित कर कार्रवाई की जा रही है। वहीं, सिटी एसपी ने कहा कि संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। किशोर को सकुशल बरामद करने के साथ बदमाशों की गिरफ्तारी की जाएगी।
कुंए से आ रही थी बदबू, लोगों ने झांककर देखा तो उड़ गए होश
यह भी पढ़ें
बहन की कॉपी लेने घर जा रहा था
रौनक अपनी बड़ी बहन के साथ बस से स्कूल जाने के लिए निकला। इस बीच उसकी बहन ने रौनक से कहा कि उसकी एक कॉपी घर छूट गई, उसे ले आओ। रौनक कॉपी लेने के लिए घर निकल गया। इसी दौरान उसका अपहरण कर लिया गया। जब वह काफी देर तक नहीं आया तो बहन ने घर वालों को खबर दी। इस बीच रौनक की बहन की सहेली ने बताया कि उसके भाई को कोई बाइक पर बिठाकर जा रहा था। थोड़ी देर में अपहरणकर्ताओं ने घर वालों से बच्चे की बात कराई और उसे मुक्त करने के लिए 25 लाख रुपये की फिरौती मांगी। इसके बाद से परिवार सदमे में आ गया। आनन- फानन परिजनों ने अगमकुआं थाने में शिकायत की। थाना पुलिस ने अपहरण की सूचना वरीय अधिकारी को दी। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए विशेष टीम गठित कर दी।
कदमकुआं में ही बदमाशों के छिपे होने की आशंका
30 लाख रुपये की मांगी गई थी फिरौती, LIC एजेंट को पुलिस ने रिहा कराया
यह भी पढ़ें
इधर, वरीय पुलिस अधिकारी से लेकर थाना प्रभारी इस मामले में कुछ बोलने को तैयार नहीं। सूत्रों की मानें तो सर्विलांंस के आधार पर पुलिस अपहरणकर्ताओं के करीब पहुंच गई है। आशंका जताई जा रही है, घटना को किसी करीबी ने अंजाम दिया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो टीम लगातार अगमकुआं में छापेमारी कर रही है।
कहा-डीआइजी ने
अपहरण की सूचना मिली है। एसएसपी की टीम लगातार छापेमारी कर रही है। अपहृत छात्र की बरामदगी के साथ बदमाशों की गिरफ्तारी का निर्देश दिया गया हैै।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here