लालू का विरोधियों पर शायराना हमला, ‘रौंदोगे तो हिमाला बनूंगा, विष दोगे तो शिवाला बनूंगा

0
210

पटना : चर्चित चारा घोटाले के एक मामले में साढ़े तीन साल जेल की सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने सोमवार को अपने ‘ट्विटर हैंडल’ से एक कविता के सहारे विरोधियों पर इशारों ही इशारों में निशाना साधा है. लालू ने खुद को ‘बिहार का बेटा’ बताते हुए कहा कि वह जब तक रहेंगे इस मिट्टी की सेवा करते रहेंगे. उन्होंने इस दौरान खुद को ‘हिमालय’ की विशालता से भी जोड़ा.

‘लालू ने किया ट्वीट’
लालू ने कविता की शैली में ट्वीट किया, “रौंदोगे तो हिमाला बनूंगा, विष दोगे तो शिवाला बनूंगा. उधेड़ोगे तो दोशाला बनूंगा, जलाओगे तो उजाला बनूंगा. दफनाओगे तो निवाला बनूंगा. लालू लाल है बिहार का, जन्म-जन्मांतर तक इस मिट्टी का रखवाला बनूंगा.”

लालू इन दिनों रांची की एक जेल में बंद हैं. जेल जाने के पूर्व उन्होंने अपने समर्थकों और बिहार के लोगों से ट्विटर से संदेश भेजते रहने की बात कही थी. इस दौरान उन्होंने कहा था कि उनका ट्विटर उनके कार्यालय या परिवार के लोग संचालित करेंगे, जिससे उनका संदेश लोगों तक पहुंचता रहेगा. लालू इससे पहले भी जेल में बंद रहने के बावजूद ट्विटर के जरिए विरोधियों पर निशाना साधते रहे हैं.

राजद ने मानव श्रृंखला को “सुपर फ्लॉप” बताया
राष्ट्रीय जनता दल ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अपील पर रविवार को आयोजित दहेज प्रथा और बाल विवाह के खिलाफ मानव श्रृंखला को “सुपर फ्लॉप” बताते हुए इस पर व्यय को लेकर “श्वेत पत्र” जारी किए जाने की मांग की है. पटना स्थित राजद मुख्यालय में पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि समाचार पत्रों के विभिन्न संस्करणों की रिपोर्टों के आधार पर आसानी से यह कहा जा सकता है कि यह मानव श्रृंखला सुपर फ्लॉप रही. शिवानंद ने राज्य सरकार से मानव श्रृंखला के आयोजन और मुख्यमंत्री की विकास समीक्षा यात्रा पर हुए खर्च को लेकर “श्वेत पत्र” जारी किए जाने की मांग की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here