14 दिन, 1150 डीएनए सैंपल्स की जांच के बाद पकड़ा गया पाक की निर्भया का हत्यारा

0
204

पाकिस्तान में पंजाब प्रांत के कसूर में एक सात साल की मासूम बच्ची से पहले बलात्कार और फिर उसकी हत्या के बहुचर्चित मामले ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया था। स्थिति यह थी कि पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस को 72 घंटे में आरोपी को पकड़ने का अल्टिमेटम दिया था। इस अल्टिमेटम की मियाद पूरी होने से एक दिन पहले ही मंगलवार को पंजाब पुलिस ने आरोपी और बच्ची के पड़ोसी को गिरफ्तार कर लिया लेकिन इसके लिए पुलिस ने 14 दिनों में 1 हजार 150 लोगों के डीएनए सैंपल्स जांचे हैं।

पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शहबाज शरीफ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, ‘निर्दयी को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह सीरियल किलर है।’ शहबाज ने बताया कि संदिग्ध को पंजाब फरेंसिक साइंस एजेंसी, नैशनल डेटाबेस ऐंड रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी, काउंटर टेररिजम अथॉरिटी, सैन्य एजेंसियों और नेताओं द्वारा 14 दिन के संयुक्त प्रयासों के बाद गिरफ्तार किया गया है।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, शहबाज ने कहा, ‘फरेंसिक एजेंसियों ने संदिग्धों के 1 हजार 150 डीएनए प्रोफाइल जांचे हैं। आखिरकार आरोपी का डीएनए सैंपल मैच हो गया है।’ अधिकारियों के मुताबिक, गिरफ्तार किया गया 24 वर्षीय आरोपी बच्ची का पड़ोसी है और उसका नाम इमरान अली है।

गौरतलब है कि पांच जनवरी को जैनब लापता हो गई थी। उसके माता-पिता सऊदी अरब गए हुए थे और वह अपनी एक रिश्तेदार के साथ रह रही थी। इसके बाद 9 जनवरी को शाहबाज खान रोड के पास कचरे के एक ढेर से उसका शव बरामद किया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि हुई।

घटना के विरोध में समूचे पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुए हैं। टीवी डिबेट्स में यह मामला सुर्खियों में रहा। मानवीय संवेदनशीलता और बच्चों के साथ बढ़ती दरिंदगी की घटनाओं को लेकर भारत में भी खूब चर्चा हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here