खास अंदाज में भारत पहुंचा मोदी का ये मेहमान, 5000 km खुद उड़ा कर लाया प्लेन

0
270

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ दिनों पहले अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा था कि इस बार का गणतंत्र दिवस अपने आप में ऐतिहासिक होगा. इसकी वजह थी कि गणतंत्र दिवस के समारोह के साथ ही भारत में इंडो आसियान सम्मेलन हो रहा है. इसमें हिस्सा लेने के लिए 10 राष्ट्रप्रमुख भारत पहुंचे हैं.

इन राष्ट्रप्रमुखों में सबसे खास अंदाज ब्रूनेई के सुल्तान हसनल बोल्किया का रहा. वह पीएम मोदी के बुलावे पर आसियान सम्मेलन में भाग लेने ब्रूनेई से लेकर दिल्ली तक अपने खास विमान में आए. बुधवार को जब ब्रूनेई के सुल्तान का विमान दिल्ली में उतरा तो उनका स्वागत करने पहुंचे भारतीय गृह राज्य मंत्री और वरिष्ठ अधिकारी भी चौंक गए. ब्रूनेई से दिल्ली तक हवाई मार्ग की दूरी करीब 5,000 किमी है.

सुल्तान हसनल जहाज उड़ाने के काफी शौकीन हैं. हालांकि, उनके 747-400 जंबो जेट को उड़ाने के लिए पाइलटों की एक टीम भी है. इससे पहले भी वह 2008 और 2012 में भी अपना विमान खुद ही उड़ाकर भारत आ चुके हैं. इस समय हसनल की उम्र 71 साल है. उनके इस विमान की कीमत करीब 545 करोड़ रुपए है. इसकी अंदरूनी सजावट में वह अलग से 654 करोड़ रुपए खर्च कर चुके हैं. यह दुनिया का सबसे लग्जरी एयरक्राफ्ट माना जाता है. इसके अलावा उनके पास एक एयरबस 340 और छह छोटे जहाज भी हैं.

इसके अलावा हसनन महंगी कार खरीदने के लिए भी जाने जाते हैं. एक समय में उनके पास लग्जरी गाड़ियों का सबसे बड़ा कलेक्शन था. बताया जाता है कि सुल्तान के महल की अंडरग्राउंड पार्किंग में उनकी 100 से ज्यादा गाड़ियां रहती हैं. वैसे उनके पास 6 हजार से ज्यादा कारें हैं. उनका महल 1,788 कमरों का है. इसमें सोने और हीरे जड़ी एक मस्जिद भी है. सुल्तान हसनन दुनिया के सबसे अमीर इंसानों में से एक हैं. उनकी संपत्ति 218,200 करोड़ रुपए आंकी गई है.

आपको बता दें कि क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के बाद ब्रूनेई के सुल्तान दुनिया की किसी भी राजशाही में सबसे लंबा तक शासन करने वाले शख्स हैं. पिछले साल 5 अक्टूबर को ही सुल्तान ने अपनी राजगद्दी संभालने के 50 साल पूरा होने का जश्न भी मनाया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here