कासगंजः माहौल बिगाड़ने की कोशिश, धर्मस्थल का हिस्सा क्षतिग्रस्त

0
259

उत्तर प्रदेश के कासगंज में कल दिनभर शांति रहने के बाद आज तड़के एक धार्मिक स्थल की बाहरी दीवार गिराये जाने से कस्बे में फिर से तनाव व्याप्त हो गया है।

पुलिस अधीक्षक पीयूष श्रीवास्तव ने बताया कि तड़के कुछ उपद्रवियों ने एक धार्मिक स्थल की बाहरी दीवार गिरा दी जिससे लोगों में गुस्सा देखा जा रहा है, हालांकि मौके पर पयार्प्त सुरक्षाकर्मी तैनात हैं।

श्री श्रीवास्तव ने बताया कि धार्मिक स्थल के कुछ और हिस्सों को क्षति पहुंचाने की असफल कोशिश की गयी। उन्होंने बताया कि इस घटना में शामिल लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं।

कल देर शाम एक कपड़े की दुकान में आग लगाये जाने के बाद यह आशंका जतायी जा रही थी कि रात में कोई घटना घट सकती है। कासगंज में इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गयी है। मामले की जांच के लिये चार सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन कर दिया गया है।

गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर निकाली गयी तिरंगा यात्रा के दौरान हुई साम्प्रदायिक हिंसा में एक युवक चन्दन गुप्ता की मृत्यु हो गयी थी और एक व्यक्ति घायल हो गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतक के परिजनों को 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी थी।

श्री श्रीवास्तव ने बताया कि संवेदनशील इलाकों में पुलिस गश्त कर रही है। स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। 160 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। कासगंज में हर हाल में स्थिति सामान्य करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने स्वीकार किया कि कल शाम तक स्थिति सामान्य हो गयी थी, लेकिन रात में कपड़े की दुकान में लगायी गयी आग और सुबह एक धार्मिक स्थल की गिरायी गयी चहारदीवारी के बाद माहौल तनावपूर्ण है लेकिन पूरी तरह नियंत्रण में है। दोनों समुदायों के जिम्मेदार लोगों से सम्पर्क बनाये रखा जा रहा है। प्रमुख लोगों से भी शांति की अपील करवायी जा रही है।

कासगंज हिंसा पर केन्द्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि, “यह घटना दिखाती है कि, देशद्रोही तत्व तिरंगा यात्रा को सहन नहीं कर पा रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ऐसी घटनाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रही है और ऐसी घटनाओं को बिलकुल भी नहीं सहा जाएगा। इसके साथ ही मामले का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here