दिल्ली: मुस्लिम से किया प्यार तो रेत दिया हिंदू लड़के का गला, बढ़ा साम्प्रदायिक तनाव, कमांडो तैनात

0
719

पश्चिमी दिल्‍ली में एक 23 वर्षीय फोटोग्राफर की उसके घर के पास हत्‍या कर दी गई। पुलिस के अनुसार, जिस लड़की से युवक रिश्‍ते में था, उसके घर के चार सदस्‍यों ने बहस के बाद चाकू चला दिया। लड़की गुरुवार (1 फरवरी) को एक मेट्रो स्‍टेशन के बाहर पीड़‍ित, अंकित सक्‍सेना का इंतजार कर रही थी। उसी समय लड़की के परिवारवालों ने रघुबीर नगर स्थित घर पर अंकित से पूछताछ शुरू कर दी। डीसीपी (वेस्‍ट) विजय सिंह ने कहा कि झगड़ा ”अंकित सक्‍सेना के मुस्लिम समुदाय की एक 20 वर्षीय लड़की से कथित रिश्‍ते को लेकर हुआ।” पुलिस के अनुसार, लड़की के माता-पिता, उसके चाचा और 16 साल के भाई को इस रिश्‍ते से आपत्ति थी और उन्‍होंने गुरुवार दोपहर को सक्‍सेना को घेर लिया और उसे लड़की से दूर रहने की चेतावनी दी। कुछ ही देर में नौबत हाथापाई की आ गई जिसमें सक्‍सेना के परिवार को चोटें पहुंची। पुलिस के अनुसार, लड़की के पिता ने अंकित का गला रेत दिया और भाग गए। हत्‍या के बाद बड़ी संख्‍या में लोग अंकित के घर के बाहर जमा हो गए और रघुबीर नगर में तनाव फैल गया। अंकित की मां मोहल्‍ले की महिलाओं के बीच बैठी रो रही थीं और स्‍थानीय लोग त्‍वरित न्‍याय की मांग करने लगे।शुक्रवार शाम तक पुलिस ने एक कमांडो यूनिट और दो दर्जन से ज्‍यादा पुलिसवाले यहां तैनात कर दिए थे। लड़के के घर के पास, अंतिम संस्‍कार की जगह और अंकित सक्‍सेना के घर के बाहर बीएसएफ जवानों को तैनात किया गया है। गुरुवार को हत्‍या के बाद, स्‍थानीय निवासियों ने लड़की के चाचा को पकड़ कर पीटा, जबकि उसके मां-बाप और भाई भाग गए। मौके पर मौजूद लोगों ने कहा क‍ि पुलिस घटनास्‍थल पर कम से कम आधे घंटे बाद पहुंची। डीसीपी ने कहा, ”हमें घटना की जानकारी अस्‍पताल द्वारा दी गई जब‍ उसकी (अंकित) लाश वहां ले जाई गए।” पुलिस ने लड़की के मां-बाप और उसके चाचा को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस के अनुसार, 16 साल के भाई को पकड़कर बाल-सुधार गृह में भेजा गया है।गुरुवार रात 8 बजे अंकित काम से घर लौटा था। लड़की के मां-बाप, चाचा और भाई अंकित के घर के पास एक स्‍कूल के बाहर उसका इंतजार कर रहे थे। अंकित की मां कमलेश ने कहा, ”मैंने झगड़े की आवाज सुनी। बाहर गई तो देखा कि उन्‍होंने (लड़की के परिवार) मेरे बेटे को घेर रखा है और उसे पीट रहे हैं। मैंने अपने पति को बुलाया और हम उसकी मदद को पहुंचे।” कमलेश ने आरोप लगाया कि लड़की के परिवार ने अंकित की छाती पर मुक्‍कों की बरसात कर दी और गालियां देते रहे।

मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार, लड़की का परिवार ने अंकित पर उसे अगवा करने का आरोप लगाया। एक गवाह ने कहा, ”अंकित ने झगड़ा रोकने की कोशिश की और कहा कि उन्‍हें लोकल पुलिस स्‍टेशन जाकर मामला सुलझाना चाहिए। मगर लड़की के पिता ने चाकू निकाला और उसका गला रेत दिया।”

पूछताछ के दौरान लड़की के परिवार ने कथित तौर पर पुलिस को बताया कि उनकी बेटी गुरुवार शाम 7.45 बजे गायब हुई। इससे उन्‍हें यकीन हो गया कि अंकित ने उसका अपहरण किया है। हालां‍कि पुलिस ने कहा कि लड़की, अंकित का टैगोर गार्डन मेट्रो स्‍टेशन पर इंतजार कर रही थी। दोस्‍तों ने उसे बताया कि अंकित की हत्‍या कर दी गई जिसके बाद वह घर की ओर भागी। सूत्रों ने कहा कि दोस्‍तों ने उसे ख्‍याला पुलिस थाने जाने को मनाया। डीसीपी ने कहा, ”हमने लड़की के एक रिश्‍तेदार से संपर्क किया है। उसके चाचा लड़की को घर ले जाने को तैयार हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.